ताजा खबरें | अपने ही प्रचार का खंडन कर रहे हैं प्रधानमंत्री : प्रियंका

रायबरेली (उप्र), 16 मई कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने बृहस्पतिवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पिछले तीन—महीनों से अपने द्वारा किये गये चुनाव प्रचार का खंडन कर रहे हैं और सच यह है कि अब कोई उनकी बातों पर भरोसा नहीं कर रहा है।

प्रियंका ने अपने भाई एवं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष तथा रायबरेली सीट से पार्टी उम्मीदवार राहुल गांधी के समर्थन में आयोजित एक जनसभा में भाजपा सरकार पर जुमलेबाजी करने का आरोप लगाते हुए कहा, ''10 साल इनके जुमले चल गये, अब नहीं चलेंगे। इन्होंने कहा कि 15 लाख रुपये आपके खाते में डालेंगे, किसान की आमदनी दोगुनी कर देंगे, हर साल दो करोड़ रोजगार देंगे। जो—जो कहा वह चुनाव के बाद नकारा। आजकल तो यह स्थिति हो गयी है कि उन्होंने कल कुछ बात बोली और अगले दिन उसका खंडन कर दिया।''

उन्होंने प्रधानमंत्री की तरफ इशारा करते हुए कहा, ''अब इतने समय से यह चुनाव को हिंदू—मुसलमान करने का प्रयास कर रहे हैं। दो दिन पहले प्रधानमंत्री वाराणसी में नामांकन करने आये और एक पत्रकार से कहा कि मैंने तो ऐसी बात कभी कही ही नहीं। मैं देश का प्रधानमंत्री हूं। अगर मैं ऐसी बात करूंगा तो मैं प्रधानमंत्री पद के योग्य ही नहीं हूं। खुद ऐसी बात कह रहे हैं। जितना प्रचार इन्होंने तीन—चार महीनों से किया, उसका खंडन खुद ही कर रहे हैं?''

प्रियंका ने कहा, ''प्रधानमंत्री अगले दिन महाराष्ट्र गये और वहां फिर वही प्रचार शुरू कर दिया जिसका एक दिन पहले खंडन किया था। तो एक दिन कुछ कहेंगे, अगले दिन खंडन करेंगे। उनकी बातों में अब वजन नहीं रहा है। उनकी बातों पर अब कोई विश्वास कर ही नहीं रहा है।''

कांग्रेस महासचिव ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और राजीव गांधी का जिक्र करते हुए कहा कि जनता को अब जिम्मेदारी भरी राजनीति को बढ़ावा देना चाहिये। उन्होंने कहा, ''इंदिरा गांधी पैदल आपके पास आती थीं। राजीव जी तो खुद डांट खाते थे अमेठी के लोगों से, कि सड़क पक्की कराओ, वरना वोट नहीं मिलेगा।''

प्रियंका ने कहा, ''मोदी सरकार को 10 साल बीत गये। बच्चों की उम्र बीत गयी है। जो बच्चे उस वक्त 18 साल के साथ आज 28 के हो गये हैं मगर उन्हें अब तक रोजगार नहीं मिला। आप सोचिये कि आपको कैसी राजनीति चाहिये। क्या ऐसी राजनीति चाहिये जो आपके प्रति जवाबदेह ही ना हो। रायबरेली से भाजपा उम्मीदवार (दिनेश प्रताप सिंह) दिन भर सिर्फ लोगों की जमीनें हड़प रहे हैं। प्रधानों और कोटेदारों को डरा—धमका रहे हैं।''

प्रियंका ने जिला मुख्यालय से करीब 20 किलोमीटर दूर चौदह मिल चौराहे पर एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘वे हमें हिंदू धर्म विरोधी बता कर हमारी आलोचना करते हैं। हम महात्मा गांधी के आदर्शों का पालन करते हैं, जिन्होंने मरने से पहले ‘हे राम’ कहा था।’’

उन्होंने कहा कि भाजपा ‘हिंदू धर्म की चैंपियन’ होने का दावा करती है, लेकिन उत्तर प्रदेश में सरकारी गौशालाओं की स्थिति बेहद दयनीय बनी हुई है।

कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘वे (भाजपा और उसके नेता) अयोध्या में (नवनिर्मित राम मंदिर में रामलला मूर्ति के) प्राण प्रतिष्ठा समारोह के निमंत्रण को अस्वीकार करने के लिए हम पर धर्म विरोधी होने का आरोप लगाते हैं। उत्तर प्रदेश में गौशालाओं का हाल देखिए जहां एक वीडियो में कुत्ते मरी हुई गाय का मांस खाते दिख रहे हैं।’’

उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस शासन के दौरान पार्टी ने गौशालाओं की स्थिति में सुधार किया और गौशाला चलाने वाले स्वयं सहायता समूहों की सहायता के लिए गाय का गोबर खरीदा।

प्रियंका रायबरेली निर्वाचन क्षेत्र में रोज चुनाव प्रचार कर रही हैं । इस सीट से राहुल गांधी चुनाव लड़ रहे हैं । उन्होंने अपनी मां सोनिया गांधी के स्थान पर स्वयं इस सीट से उतरने का निर्णय किया । सोनिया को राजस्थान से राज्यसभा में भेजा गया । इसके बाद उन्होंने यह सीट खाली कर दी थी ।

प्रियंका ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और राजीव गांधी के दिनों से इस निर्वाचन क्षेत्र के साथ गांधी परिवार के मजबूत बंधन को रेखांकित किया ।

उन्होंने कहा, ‘‘भैया (राहुल गांधी) चुनाव जीतने के बाद परंपरा का पालन करेंगे।’’

प्रियंका ने मोदी सरकार पर योजना से संबंधित कागजात पर अपनी तस्वीर लगाकर मुफ्त राशन योजना का श्रेय लेने की कोशिश करने का आरोप लगाया और कहा कि यह कांग्रेस के नेतृत्व वाली संप्रग सरकार थी जिसने भोजन का अधिकार अधिनियम बनाया था।

कांग्रेस नेता ने उप्र में बार-बार प्रश्नपत्र लीक होने पर भी भाजपा की आलोचना की और इस तरह के घटना को रोकने के लिए कड़े कानून बनाने का वादा किया।

उन्होंने वादा किया कि अगर उनकी पार्टी केंद्र में सत्ता में आती है तो शिक्षा पर जीएसटी हटा दिया जाएगा और सशस्त्र बलों में भर्ती के लिए अग्नि-वीर योजना को समाप्त कर दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी सैन्य कर्मियों के लिए पेंशन प्रावधान के साथ स्थायी नियुक्ति की पुरानी पद्धति को बहाल करेगी।

कांग्रेस महासचिव ने लघु उद्यमियों के लिये 5000 करोड़ रुपये का कोष बनाने के बारे में भी बातचीत की ।

रायबरेली में पांचवें चरण में 20 मई को मतदान होना है।

राहुल गांधी को टक्कर देने के लिए भाजपा ने राज्य सरकार के मंत्री दिनेश प्रताप सिंह को मैदान में उतारा है जबकि मायावती के नेतृत्‍व वाली बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने ठाकुर प्रसाद यादव को टिकट दिया है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)