देश की खबरें | भाजपा नेता की हत्‍या में पुलिस ने तीन को किया गिरफ़तार
एनडीआरएफ/प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Credits: ANI)

फिरोजाबाद/ लखनऊ, 17 अक्टूबर उत्तर प्रदेश में फिरोजाबाद जिले के टूंडला विधानसभा क्षेत्र में तीन नवंबर को होने वाले उपचुनाव के पहले ही नारखी थाना क्षेत्र के गांव नगला बीच निवासी भारतीय जनता पार्टी के एक नेता की हत्‍या कर दी गई। इस हत्‍या के सिलसिले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ़तार किया है।

पुलिस ने बताया कि पकड़े गये तीनों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया गया है। इसके पहले भाजपा नेता के परिजनों ने अपनी मांगों को लेकर धरना दिया जिसे भाजपा के सांसद और विधायक ने समाप्‍त कराया। इसके बाद भाजपा नेता की अंत्‍येष्टि हुई।

यह भी पढ़े | Gyms, Fitness Centres to Reopen in Maharashtra From October 25: महाराष्ट्र में 25 अक्टूबर के बाद खुलेंगे Gyms और Fitness Centres, लेकिन इन नियमों का करना होगा पालन.

इस सिलसिले में अपर पुलिस महानिदेशक (कानून-व्‍यवस्‍था) प्रशांत कुमार ने बताया कि ''घटना में नामजद तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। वहां की स्थिति सामान्‍य है। परिवार के लोगों ने जो तहरीर दी थी उसी आधार पर कार्रवाई की गई है।''

उल्‍लेखनीय है कि आरोपियों के पकड़े जाने के बाद भी भाजपा नेता के परिजनों ने पुलिस के खिलाफ नारे लगाए। पोस्टमार्टम के बाद परिजनों द्वारा क्षेत्रीय लोगों के साथ धरना दिया गया। भाजपा नेता के परिजनों ने यह कहकर आक्रोश व्यक्त किया कि ''वैश्य समाज पर लगातार हमले हो रहे हैं और उन्हें निशाना बनाया जा रहा है। जब तक न्याय नहीं होगा हम अंत्येष्टि नहीं करेंगे।''

यह भी पढ़े | Navratri 2020: राहुल गांधी ने नवरात्रि की लोगों को दी शुभकामनाएं, ट्वीट कर कहा- नारी का सम्मान करना देवी का पूजन करने जितना ही आवश्यक है.

बाद में मौके पर पहुंचे सदर विधायक मनीष असीजा एवं उनके बाद पहुंचे सांसद चंद्रसेन जादौन ने परिजनों को समझाया बुझाया और उन्हें आश्वासन दिया कि हत्‍या के लिए जिम्मेदार लोगों को बख्शा नहीं जाएगा। वरिष्‍ठ पुलिस अधीक्षक सचिन्द्र पटेल ने बताया कि तीन लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज की गई है और पुलिस की टीमें गठित कर तीन लोगों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल कर ली गई है।

भाजपा नेता डीके गुप्‍ता के शव को पार्टी के झंडे में लपेट कर भाजपा संगठन की ओर से उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की गई। शव यात्रा शुरू होने से पूर्व सांसद चंद्रसेन जादौन व सदर विधायक मनीष असीजा ने कंधा देकर शव यात्रा को अंत्येष्टि स्थल के लिए रवाना किया। बाद में डीके गुप्ता की अंत्येष्टि पुलिस की कड़ी सुरक्षा के बीच संपन्न हुई।

शुक्रवार की रात भाजपा नेता डीके गुप्‍ता को उस समय बाइक सवार बदमाशों ने गोली मार दी जब वह अपनी परचून की दुकान बंद कर घर जा रहे थे। उन्‍हें फौरन आगरा के अस्‍पताल ले जाया गया जहां उन्‍होंने दम तोड़ दिया। ध्‍यान रहे कि शुक्रवार को भी भाजपा नेता के समर्थकों ने सड़क जाम किया था और जमकर नारेबाजी की थी।

सं आनन्‍द

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)