देश की खबरें | मप्र : सुरक्षा गार्ड ने मानसिक रोगी महिला को घसीटा, मानवाधिकार आयोग ने तलब की रिपोर्ट

इंदौर (मध्यप्रदेश), 22 फरवरी खरगोन के जिला अस्पताल परिसर में घूम रही मानसिक रोगी महिला को एक पुरुष सुरक्षा गार्ड द्वारा सरेआम जमीन पर घसीटकर बाहर निकाले जाने की चार दिन पुरानी घटना का मध्यप्रदेश मानवाधिकार आयोग ने सोमवार को संज्ञान लिया। आयोग ने इस अमानवीय घटना के बारे में प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के आला अफसरों से रिपोर्ट तलब की है।

घटना की तस्वीरें सोशल मीडिया पर पहले ही फैल चुकी हैं जिसके बाद खरगोन के प्रशासन को लोगों की तीखी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है।

प्रदेश मानवाधिकार आयोग के एक अधिकारी ने बताया कि आयोग के अध्यक्ष न्यायमूर्ति नरेंद्र कुमार जैन ने मानसिक रोगी महिला से अमानवीय बर्ताव के मामले में खरगोन के जिलाधिकारी और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से दो सप्ताह के भीतर रिपोर्ट मांगी है।

अधिकारी ने बताया कि आयोग ने मीडिया की खबरों के आधार पर इस मामले का संज्ञान लिया है।

चश्मदीदों के मुताबिक एक पुरुष सुरक्षा गार्ड ने महिला को 18 फरवरी को जिला अस्पताल परिसर से बाहर निकल जाने को कहा था और जब महिला ने ऐसा नहीं किया तो उसने मानसिक रोगी की बांह पकड़कर उसे जमीन पर घसीटते हुए परिसर से बाहर निकाल दिया था।

सोशल मीडिया पर सामने आईं तस्वीरों से पता चलता है कि महिला के साथ इस अमानवीय बर्ताव के दौरान अस्पताल परिसर में खड़े लोग मूक दर्शक बनकर तमाशा देख रहे थे।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)