देश की खबरें | अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2021 से पहले योग को बढ़ावा देने के लिए आयुष एवं खेल मंत्रालयों ने मिलाया हाथ

नयी दिल्ली, चार मई आयुष मंत्रालय तथा युवा एवं खेल मंत्रालय ने 21 जून के अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की भावना के अनुरूप अच्छे स्वास्थ्य एवं कल्याण के लिए योग को दिनचर्या में शामिल करने के बारे में लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए हाथ मिलाया है।

आयुष मंत्रालय ने एक बयान में बताया कि कि दोनों ही मंत्रालयों अंतरराष्ट्रीय योग दिवस, 2021 के 50 दिन पूर्व दो मई को एक डिजिटल कार्यक्रम का मिलकर आयोजन किया।

इस कार्यक्रम में खिलाड़ियों के लिए योग के महत्व के बारे भारतीय बैडमिंटन प्रशिक्षक पुल्लेला गोपीचंदन के साथ खेल मंत्री किरण रिजीजू की बातचीत का रिकार्डेड वीडियो भी प्रदर्शित किया गया। उसमें योग पर ओलंपिक खिलाड़ी अंजू बॉबी जार्ज का संदेश भी प्रसारित किया गया।

यह कार्यक्रम सोशल मीडिया मंचों पर दिखाया गया तथा उससे 5000 से अधिक दर्शक जुड़े।

बयान में कहा गया है, ‘‘ कोविड-19 के मामलों में तीव्र वृद्धि के मद्देनजर जरूरी है कि अंतरराष्ट्रीय योग दिवस-2021 की प्रचार गतिविधियों के वास्ते भीड़भाड़ से दूर रहना। आयुष मंत्रालय इसी संदर्भ में ‘योग के साथ, घर में योग’ संदेश का प्रचार कर रहा है।’’

मंत्रालय ने कहा कि कोविड-19 की दूसरी लहर के मद्देनजर लोगों के शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य पर महामारी के असर को लेकर व्यापक चिंता है ,ऐसे दौर में विभिन्न फायदों के साथ येाग लोगों के लिए बड़ा मददगार साबित हो रहा है।

उसने कहा कि नियमित रूप से योग करने से स्वास्थ्य सुधार एवं प्राकृतिक प्रतिरक्षा मजबूत करने में मदद मिलती है और साथ ही, योग व्यक्ति के चय-उपाचय, रक्त परिसंचरण सही रखने, श्वसन एवं हृदयसंबंधी रोगों , मधुमेह आदि से बचाव में मददगार समझा जाता है। उसने कहा कि इसलिए अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2021 आम लोगों के मन-मस्तिष्क एवं दिनचर्या में योग को उतारने का यही सही अवसर है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)