देश की खबरें | मध्य प्रदेश सरकार ने भोपाल में नेशनल हेराल्ड को आवंटित भूमि की जांच के आदेश दिए

भोपाल, पांच अगस्त मध्य प्रदेश के एक मंत्री ने शुक्रवार को कहा कि राज्य सरकार ने भोपाल के प्रेस कॉम्पलेक्स में नेशनल हेराल्ड अखबार को आवंटित जमीन की जांच के आदेश दिए हैं क्योंकि वहां नियमों का उल्लंघन कर व्यावसायिक भवन बनाए गया है।

इससे पहले प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी नेता राहुल गांधी से कांग्रेस द्वारा प्रवर्तित कंपनी यंग इंडियन में कथित वित्तीय अनियमितताओं को लेकर पूछताछ कर चुका है। यंग इंडियन कंपनी नेशनल हेराल्ड अखबार की मालिक है।

मध्य प्रदेश में नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा, ‘‘नेशनल हेराल्ड को प्रेस कॉम्पलेक्स, भोपाल में आवंटित भूखंड में शर्तों का उल्लंघन कर व्यावसायिक निर्माण के मामले में आज मैंने जांच समिति के गठन के आदेश दे दिए हैं। आवंटित भूखंड के प्रयोजन का उल्लंघन किनके द्वारा किया गया, भूखंडों का विक्रय किनके द्वारा किया गया, व्यावसायिक निर्माण किसने किया, न्यायालय में इतने लंबे समय से प्रकरण में ठोस कार्यवाही के लिए कौन जिम्मेदार है, इत्यादि बिन्दुओं पर समिति जांच करेगी और अपना प्रतिवेदन एक माह में प्रस्तुत करेगी।’’

भोपाल में नेशनल हेराल्ड की जमीन के बारे में पूछे जाने पर सिंह ने एक समाचार चैनल को कहा, ‘‘हम इसकी जांच करा रहे हैं। अगर कोई अनियमितता पाई जाती है तो हम कार्रवाई करेंगे और उसे सील कर देंगे।’’

भोपाल विकास प्राधिकरण (बीडीए) द्वारा प्रेस कॉम्पलेक्स में समाचार पत्र घरानों को आवंटित भूमि का उपयोग व्यावसायिक उद्देश्यों के लिए किए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘‘व्यावसायिक उपयोग नहीं किया जा सकता है। इस तरह (व्यावसायिक) का उपयोग नियमों के तहत नहीं है, यह गलत है, हम कार्रवाई करेंगे।’’

नेशनल हेराल्ड की लीज डीड रद्द करने के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘‘पट्टा रद् कर दिया गया है। मामला अदालत में है। हमने मामले की स्थिति और इस संबंध में पूरी जानकारी मांगी है। अगर आवश्यक हुआ तो हम अदालत जाएंगे और यदि अदालत में कोई मामला नहीं है तो हम सीधी कार्रवाई करेंगे।’’

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)