देश की खबरें | लोजपा सांसद प्रिंस राज दुष्कर्म मामले में गिरफ्तारी से बचने के लिए अदालत पहुंचे

नयी दिल्ली, 14 सितंबर लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) सांसद प्रिंस राज ने दुष्कर्म मामले में गिरफ्तारी बचने के लिए मंगलवार को दिल्ली की एक अदालत में अग्रिम जमानत याचिका दायर की।

प्रिंस राज की ओर से दाखिल अग्रिम जमानत याचिका पर बृहस्पतिवार को विशेष न्यायाधीश एमके नागपाल की अदालत में सुनवाई होने की संभावना है।

अदालत के आदेश पर प्राथमिकी दर्ज होने के बाद प्रिंस राज ने अधिवक्ता नितेश राणा के जरिये अग्रिम जमानत की अर्जी दाखिल की है। वह दिवंगत राम विलास पासवान के भतीजे हैं।

अर्जी में दावा किया गया है कि कथित पीड़िता और उसका पुरुष साथी प्रिंस राज से पैसे की उगाही कर रहे थे और उन्हें ब्लैकमेल कर रहे थे। याचिका में कहा गया कि इस संबंध में पहले ही प्राथमिकी दर्ज की जा चुकी है जिसमें महिला और उसके साथी को अग्रिम जमानत दी गई है।

प्रिंस राज बिहार के समस्तीपुर सीट से लोकसभा सदस्य हैं।

गौरतलब है कि महिला ने इस साल मई में दिल्ली के कनॉट प्लेस थाने में शिकायत दर्ज कराई थी और दिल्ली की अदालत के निर्देश पर पुलिस ने नौ सितंबर को प्रिंस राज के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की।

महिला ने दावा किया है कि वह लोजपा कार्यकर्ता है और उसने प्रिंस राज पर बेहोशी की हालत में उसके साथ दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है।

धीरज अनूप

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)