देश की खबरें | आईपीएल पर कोविड का कहर : बालाजी की पॉजिटिव रिपोर्ट के बाद सीएसके-रॉयल्स मैच स्थगित

नयी दिल्ली, चार मई चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) और राजस्थान रॉयल्स के बीच बुधवार को होने वाला इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का मैच अब बाद की तिथियों में आयोजित किया जाएगा क्योंकि गेंदबाजी कोच एल बालाजी के कोविड-19 के लिये पॉजिटिव पाये जाने के कारण सीएसके को कड़े पृथकवास से गुजरना पड़ रहा है।

बोर्ड की मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) के अनुसार यदि कोई भी व्यक्ति संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आता है तो उसे छह दिन तक पृथकवास पर रहना होगा और इस दौरान उसकी आरटी पीसीआर की तीन रिपोर्ट नेगेटिव आनी चाहिए।

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के एक अधिकारी ने गोपनीयता की शर्त पर पीटीआई से कहा, ‘‘सीएसके और रॉयल्स के बीच अरुण जेटली स्टेडियम में कल होने वाला मैच एसओपी नियमों के तहत बाद की तिथियों में आयोजित किया जाएगा। बालाजी सभी खिलाड़ियों के सपर्क में आये थे और इसलिए उन सभी को कड़े पृथकवास में रहना पड़ रहा है। उनका प्रत्येक दिन परीक्षण किया जाना चाहिए।’’

जब सीएसके के सीईओ काशी विश्वनाथन से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि सीएसके ने बालाजी के आरटी पीसीआर परिणाम के बारे में बीसीसीआई को सूचित कर दिया है।

उन्होंने कहा, ‘‘हमने सूचित कर दिया है कि बालाजी का परीक्षण पॉजिटिव आया है और एसओपी के अनुसार हमारे खिलाड़ी पृथकवास पर चले गये हैं। ’’

सीएसके के खिलाड़ी उनके पूर्व निर्धारित आरटी पीसीआर परीक्षण में हालांकि नेगेटिव आये थे।

आईपीएल में यह दूसरा मैच जिसका कार्यक्रम फिर से तय किया जाएगा। इससे पहले कोलकाता नाइटराइडर्स के दो खिलाड़ियों वरुण चक्रवर्ती और संदीप वारियर के पॉजिटिव पाये जाने के बाद रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ सोमवार को होने वाला उसका मैच स्थगित कर दिया गया था।

दिल्ली आज शाम को मुंबई इंडियन्स और सनराइजर्स हैदराबाद के मैच की मेजबानी करेगा।

यह मैच अभी पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार खेला जाना है लेकिन इसको लेकर चिंता बनी हुई क्योंकि मुंबई इंडियन्स ने शनिवार को सीएसके के खिलाफ मैच खेला था और मैच के दौरान बालाजी उसके कई खिलाड़ियों के संपर्क में आये थे।

बीसीसीआई में कई का मानना है कि मंगलवार के मैच के कार्यक्रम में भी बदलाव करना समझदारी होगी।

बीसीसीआई सूत्रों ने कहा, ‘‘सीएसके के खिलाफ खेलने के कारण यहां तक कि मुंबई इंडियन्स के खिलाड़ी भी जोखिम में हैं। आदर्श स्थिति यही होगी कि बीसीसीआई आज के मैच का कार्यक्रम भी फिर से तय करे। संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने पर अमूमन छठे या सातवें दिन लक्षण दिखायी देते हैं। ’’

यह भी कयास लगाये जा रहे हैं कि टूर्नामेंट के बाकी बचे मैच एक ही स्थल मुंबई में आयोजित किये जाएं लेकिन इसमें साजो सामान से जुड़ी दिक्कतें हैं।

अधिकारी ने कहा, ‘‘आप होटल के कई कर्मचारियों के लिये सात दिन के कड़े पृथकवास के लिये क्या करेंगे क्योंकि आपको नया बायो बबल तैयार करने के लिये कम से कम चार होटलों की जरूरत पड़ेगी। ’’

यदि टूर्नामेंट मुंबई में ही आयोजित किया जाता है तो कोलकाता और बेंगलुरू को अपने हिस्से के मैचों के आयोजन का मौका नहीं मिलेगा। एक अन्य विचार उन्हीं स्थानों -दिल्ली और अहमदाबाद- में मैचों का आयोजन जारी रखने को लेकर है जिनका अभी उपयोग किया जा रहा है।

एक फ्रेंचाइजी टीम के अधिकारी ने कहा, ‘‘आपने देखा होगा कि जब चेन्नई और मुंबई में मैचों का आयोजन किया जा रहा था तब स्थिति नियंत्रण में थी। टीमों के एक शहर से दूसरे शहर में यात्रा करने के बाद समस्याएं पैदा हुई। ’’

पंत

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)