देश की खबरें | भाजपा ने आगामी चुनावों की योजना बनाई, कहा: मोदी गरीबों को सशक्त कर रहे हैं, विपक्ष अपने परिवारों को

हैदराबाद, दो जुलाई भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने राष्ट्रीय कार्यसमिति के पहले दिन शनिवार को जहां आगामी लोकसभा और विधानसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए कई कार्यक्रमों की घोषणा की, वहीं पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘‘भष्ट्राचार और वंशवाद’’ की राजनीति करने वाले राष्ट्र को सशक्त करने वाली योजनाओं में बाधा उत्पन्न कर रहे हैं और सर्जिकल स्ट्राइक जैसे कदमों पर सवाल उठाकर ‘‘विनाशकारी’’ राजनीति कर रहे हैं।

पार्टी ने यह भी कहा कि भाजपा की सरकारें जहां गरीबों को सशक्त करने के लिए लगातार काम कर रही हैं, वहीं विपक्षी दल अपने परिवारों को सशक्त करने में लगे हुए हैं। साथ ही पार्टी ने कहा कि दुर्भाग्य की बात यह है कि भाजपा और प्रधानमंत्री का विरोध करते-करते विपक्ष अब देश के विरोध पर उतारू हो गया है।

भाजपा की इस बैठक में करीब 350 प्रतिनिधि जुटे, जिनमें इनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित भाजपा के सभी शीर्ष नेता शामिल हैं। राष्ट्रवाद की राजनीति को आगे बढ़ाते हुए भाजपा ने देश भर में हर घर तिरंगा अभियान

चलाने का फैसला किया है।

भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने कार्यसमिति को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में केंद्र और पार्टी शासित राज्यों की सरकारें जहां ‘‘रचनात्मक’’ राजनीति कर रही हैं, वहीं ‘‘भष्ट्राचार और वंशवाद’’ की राजनीति करने वाले विपक्षी दल राष्ट्र को सशक्त करने वाली योजनाओं में बाधा उत्पन्न कर और सर्जिकल स्ट्राइक जैसे कदमों पर सवाल उठाकर ‘‘विनाशकारी’’ राजनीति कर रहे हैं।

पार्टी की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक, नड्डा ने विपक्षी दलों पर गैर-जिम्मेदाराना व्यवहार और ‘‘थोथी राजनीति’’ कर जनता को गुमराह करने का आरोप लगाया और कहा कि भाजपा शासित राज्यों में ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास' के आधार पर विकास की राजनीति हो रही है, जबकि विपक्ष शासित राज्यों में तुष्टीकरण की घोर पराकाष्ठा की राजनीति हो रही है।

उन्होंने कहा, ‘‘जहां एक ओर भारत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में विकास के नए आयाम गढ़ रहा है, वहीं विपक्ष का व्यवहार अत्यंत ही गैर-जिम्मेदाराना रहा है। विपक्ष तर्कविहीन थोथी राजनीति कर देश की जनता को गुमराह कर रहा है।’’

उन्होंने कहा कि विपक्ष ने टीकों और टीकाकरण, कृषि सुधार कानूनों, सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक, लद्दाख व डोकलाम के मुद्दों तथा राफेल लड़ाकू विमान पर भी जनता को गुमराह किया।

उन्होंने कहा, ‘‘देशहित के लिए जरूरी सुधारों को अटकाना, लटकाना और भटकाना ही विपक्ष का उद्देश्य रह गया है। दुर्भाग्य की बात यह है कि भाजपा और प्रधानमंत्री का विरोध करते-करते विपक्ष अब देश के विरोध पर उतारू हो गया है।’’

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि इसके विपरीत भाजपा शासित राज्यों में गरीबों के सबसे अधिक मकान बनाने, ग्राम विकास में सबसे आगे रहने, सड़कें बनाने, गरीबों तक राशन पहुंचाने जैसे विकास के मुद्दों पर प्रतिस्पर्धा हो रही है तो विपक्ष द्वारा शासित राज्यों में इस बात की प्रतिस्पर्धा है कि तुष्टीकरण की राजनीति में कौन आगे है, गरीबों का राशन लूटने में कौन सबसे अधिक आगे है, भ्रष्टाचार में कौन सबसे आगे है और परिवारवाद की राजनीति में कौन सबसे आगे है।

नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में देश में जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टीकरण की राजनीति ख़त्म हुई है और विकासवाद, राजनीति का केंद्र बिंदु बना है।

उन्होंने कहा, ‘‘उनके नेतृत्व में देश की राजनैतिक कार्य संस्कृति भी बदली है। मोदी सरकार अति सक्रिय, अति जवाबदेह और गरीब-हितैषी सरकार है, जो जनसेवा के लिए सतत कटिबद्ध रहती है। प्रधानमंत्री ने देश के लोकतंत्र में ‘पॉलिटिक्स ऑफ़ परफॉरमेंस’ और विकासवाद के सिद्धांत को स्थापित किया है।’’

भाजपा ने कार्यसमिति की बैठक में आने वाले दिनों में देश भर में नेताओं के प्रवास, बूथ और पन्ना प्रमुखों को सशक्त करने पर जोर दिया। इतना ही नहीं, पार्टी केंद्र की योजनाओं के लाभार्थियों से संघन संपर्क और ‘‘हर घर तिरंगा’’ अभियानों को भी मूर्त रूप देगी।

यहां के ‘‘हैदराबाद इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर’’ में पार्टी पदाधिकारियों की बैठक में उपरोक्त कार्यक्रमों और अभियानों को चलाए जाने पर जोर दिया गया।

भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने पदाधिकारियों की बैठक में हुई चर्चा पर यहां पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि यूं तो भाजपा का पहले ही प्रवास पर जोर रहता है, लेकिन आने वाले दिनों में इसपर विशेष जोर दिया जाएगा।

उन्होंने कहा, ‘‘प्रवास के दौरान पार्टी के नेता जनता के बीच जाएंगे, हर बूथ तक पहुंचेंगे और छोटे से छोटे कार्यकर्ताओं से बात करेंगे। बूथ अध्यक्ष और बूथ कार्यकर्ताओं से संपर्क साधना हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण है, क्योंकि वही कार्यकर्ता हैं, जो वास्तव में इलाके में फैलकर हमारी बात को सबके सामने रख सकते हैं।’’

राजे ने बताया कि बैठक के दौरान भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने कहा कि जनता से संपर्क साधने के साथ-साथ ‘‘अंत्योदय’’ की परिकल्पना को साकार करने के लिए देश भर में एक गहन अभियान चलाने की जरूरत है।

उनके मुताबिक, नड्डा ने कहा, ‘‘ये दोनों साथ-साथ चलेंगे तो इसका फायदा कार्यकर्ताओं, प्रदेश और जनता को भी मिलेगा।’’

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि बैठक के दौरान संगठन को मजबूत बनाने और जमीनी स्तर तक कार्यकर्ताओं को जोड़ने के लिए हर बूथ में कम से कम 200 सक्रिय कार्यकर्ता तैयार करने, बूथ स्तर पर व्हाट्सऐप ग्रुप बनाने और पन्ना प्रमुखों को सशक्त करने पर जोर दिया गया।

राजे ने बताया कि नड्डा ने कहा कि भाजपा ने देश के विभिन्न राज्यों में बड़े स्तर पर पन्ना प्रमुख बनाए हैं, लेकिन इसके महत्व को भूलना नहीं है। उन्होंने इन्हें और मजबूत बनाने पर जोर दिया।

उन्होंने कहा कि पार्टी के अध्यक्ष और संगठन हर हफ्ते इन सभी कार्यक्रमों की समीक्षा भी करेंगे।

राजे ने बताया कि ‘‘आजादी के अमृत महोत्सव’’ के तहत भाजपा हर घर तिरंगा अभियान चलाएगी और देश को एकजुट रखने के लिए एक बड़ा आंदोलन खड़ा करने का प्रयास करेगी।

उन्होंने कहा, ‘‘इससे हर घर तिरंगा अभियान अपने आप एक आंदोलन बन जाएगा। यह लोगों को एकजुट करेगा। हमारा लक्ष्य है कि हम इस अभियान के तहत 20 करोड़ लोगों तक पहुंचें।’’

राजे ने कहा कि केंद्र सरकार की विभिन्न योजनाओं और कार्यक्रमों के करीब 30 करोड़ लाभार्थियों तक भी भाजपा पहुंचेगी और उनसे संपर्क साधेगी।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)