विदेश की खबरें | क्रोएशिया में बस दुर्घटना में कम से कम 12 लोगों की मौत
श्रीलंका के प्रधानमंत्री दिनेश गुणवर्धने

क्रोएशिया की पुलिस ने ट्विटर पर कहा, ''प्रारंभिक जानकारी के अनुसार, पोलिश लाइसेंस प्लेट वाली एक बस के फिसलने से 11 लोगों की मौत हो गई और कई घायल हो गए''।

अधिकारियों ने बताया कि एक अन्य यात्री की बाद में अस्पताल में मौत हो गयी थी। उन्होंने बताया कि बस में कुल 43 लोग सवार थे।

क्रोएशिया के सरकारी मीडिया चैनल 'एचआरटी टेलीविजन' के मुताबिक, लगभग 30 लोग घायल हो गए और कुछ लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। इसने कहा कि दुर्घटना का संभावित कारण चालक को झपकी लगना बताया जा रहा है।

'एचआरटी टेलीविजन' ने राजमार्ग के पास में खाई में टूटी नीली बस का वीडियो भी दिखाया। बस क्रोएशिया की राजधानी जगरेब की ओर जा रही थी।

पोलिश प्रधानमंत्री माटुस्ज मोराविकी ने कहा कि बस तीर्थयात्रियों को दक्षिणी बोस्निया के एक शहर मेडजुगोरजे में कैथोलिक धर्मस्थल पर ले जा रही थी।

मोराविकी ने फेसबुक पर कहा, ''आज सुबह, मैंने क्रोएशिया के प्रधानमंत्री लेडी प्लेंकोविक के साथ दुर्घटना के जानकारी ली, जिन्होंने क्रोएशिया के चिकित्सा सेवाओं के पूर्ण समर्थन का आश्वासन दिया।''

मोराविकी ने कहा, ''मैंने दुर्घटना में घायल परिवारों के लिए एक सहायता संगठन बनाने के लिए हमारी कांसुलर सेवाओं की सिफारिश की।"

क्रोएशिया के गृहमंत्री डावर बोज़िनिक ने कहा कि बस ''वारसॉ के पास एक स्थान'' से निकली और ''जानकारी के अनुसार,'' यह तीर्थयात्रियों को मेडजुगोरजे ले जा रही थी।

उन्होंने बताया कि दुर्घटना स्थानीय समयानुसार सुबह पांच बजकर 40 मिनट पर क्रोएशिया की राजधानी जगरेब से लगभग 50 किमी उत्तर में ए-चार राजमार्ग पर हुई। यह राजमार्ग पर्यटन सीजन के चलते दिनभर वाहनों की आवाजाही के कारण व्यस्त रहता है।

सरकारी मीडिया के मुताबिक, बचाव दल को दुर्घटनास्थल पर भेजा गया है। दुर्घटना के असल कारण की जांच की जा रही है।

एपी

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)