दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020: AAP ने शाहरुख और काजोल की फोटो शेयर कर मनोज तिवारी को किया ट्रोल, बीजेपी और कांग्रेस ने मजेदार अंदाज में दिया जवाब
फिल्म बाजीगर की इस तस्वीर को सियासी पार्टियों ने बनाया मुद्दा (Photo Credits-Twitter)

नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली में विधानसभा चुनाव के लिए एक महीने से भी कम का समय बचा है. राजधानी दिल्ली में प्रमुख मुकाबला आम आदमी पार्टी, कांग्रेस और बीजेपी के बीच है. वही सभी पार्टियां प्रचार में जुटी हैं. दिल्ली में बीजेपी ने सीएम उम्मीदवार नहीं घोषित किया है. बल्कि पीएम मोदी के चेहरे के दम पर चुनाव लड़ने जा रही है. हालांकि बीजेपी को अगर बहुमत मिलता है तो दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी मुख्यमंत्री बन सकते हैं. दूसरी ओर सत्ता पर काबिज आम आदमी पार्टी एक बार फिर अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में चुनाव लड़ने जा रही है. इसके साथ ही कांग्रेस ने भी किसी को सीएम उम्मीदवार नहीं घोषित किया है. इसी बीच सोशल मीडिया पर एक तस्वीर बेहद चर्चा का विषय बनी हुई है.

बता दें कि आम आदमी पार्टी ने फिल्म बाजीगर का एक पोस्टर शेयर कर अरविंद केजरीवाल को शाहरुख खान बताया और काजोल को दिल्ली बताया. जबकि दिल्ली बीजेपी चीफ और सांसद मनोज तिवारी को फिल्म में काजोल के दोस्त तथा पुलिस इंस्पेक्टर का किरदार निभाने वाले अभिनेता सिद्धार्थ राय बताया. यह भी पढ़े-दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020: आम आदमी पार्टी ने इलेक्शन जीतने के लिए बनाई अलग रणनीति, इन दिग्गजों को देगी टिकट, बीजेपी से है मुकाबला

इस तस्वीर में अभिनेत्री काजोल सामने देख रही है और शाहरुख खान काजोल की तरफ देख रहे हैं, जबकि सिद्धार्थ राय शाहरुख खान और काजोल दोनों को देख रहे हैं.  इस तस्वीर को ट्वीट करते हुए आम आदमी पार्टी ने दिल्ली बीजेपी चीफ मनोज तिवारी को टैग करते हुए उन्हें 'ऑल द बेस्ट' कहा है. ट्वीट करने के तुरंत बाद लोग बड़ी संख्या में इसपर कमेंट करने लगे और इसे शेयर करने लगे.

आम आदमी पार्टी के ट्वीट का जवाब देते हुए बीजेपी ने कहा कि इस फिल्म में शाहरुख खान एक ऐसे विलेन की भूमिका में हैं जिन्होंने काजोल के परिवार के खिलाफ साजिश रची है और उनकी बहन को भी मारा है. बीजेपी की तरफ से आगे लिखा गया कि फिल्म के अंत में शाहरुख खान अपने पाप की वजह से मारे जाते है. इसलिए राजधानी में भी केजरीवाल के साथ भी यही होगा. यह भी पढ़े-दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020: आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के उम्मीदवारों की पहली सूची 14 जनवरी से पहले आने की उम्मीद

आम आदमी पार्टी और बीजेपी से एक कदम आगे जाते हुए कांग्रेस ने इस तस्वीर पर जवाब देते हुए लिखा कि फोटो में काजोल दोनो में से किसी की तरफ जानें के लिए तैयार नहीं हैं और वो कांग्रेस पार्टी की तरफ देख रही है. कांग्रेस की ओर से आगे लिखा गया कि हम आपको विश्वास दिलाना चाहते हैं कि आप दोनो से हम राजधानी को बचाएंगे.

बता दें कि राजधानी दिल्ली में 8 फरवरी को वोटिंग होने वाली है और 11 फरवरी 2020 को नतीजे आएंगे.  साल 2015 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को 70 में से 67 सीटें मिली थी. जबकि बीजेपी को तीन सीट मिली थी. वही कांग्रेस का खाता तक नहीं खुल सका था.