कोरोना का कहर: महाराष्ट्र में 24 घंटे के भीतर आए 2739 नए केस, COVID-19 से संक्रमित मरीजों की संख्या 82,968 हुई
कोरोना वायरस | (Photo Credits: PTI)

कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है. आंकड़ा बढ़ने का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि संक्रमति हुए लोगों की संख्या में इटली को पीछे कर दिया है. देश में कोरोना वायरस के आंकड़ो पर नजर डालें तो बढ़कर 2 लाख 36 हजार 657 हो गया है. कई राज्यों में कोरोना ने अपना कोहराम मचा रखा है. महाराष्ट्र में प्रतिदिन दो हजार से ज्यादा मरीज COVID-19 से संक्रमित पाए जा रहे हैं. महराष्ट्र सरकार द्वारा जारी किए गए आंकड़ो के मुताबिक राज्य में COVID-19 के 2739 नए मामले सामने आए हैं. वहीं एक दिन के भीतर राज्य में और 120 मौतें भी हुई हैं. इसी के साथ महाराष्ट्र में COVID-19 से संक्रमित मरीजों की संख्या अब 82,968 हो गई है. वहीं इनमे से 37,390 डिस्चार्ज हुए हैं और 2969 मौतें शामिल हैं.

महाराष्ट्र सरकार कोरोना से लड़ने के लिए हर मुमकिन कोशिश कर रही है. राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि महाराष्ट्र सरकार रेमेडीसविर दवा की 10,000 शीशियों की खरीद करेगी. दरअसल विश्व स्वास्थ्य संगठन का सुझाव है कि COVID-19 के उपचार में यह दवा कुछ पॉजिटिव प्रभाव डाल सकती है. वहीं मुंबई मेयर किशोरी पेडनेकर का कहना है कि मुंबई शहर में कोरोना के सबसे अधिक मरीज है. वहीं जो गंभीर और इमरजेंसी कंडीशन में हैं उन्हें ही अस्पतालों में बेड मिलना चाहिए. जैसे ही लोग पॉजिटिव पाए जाते हैं, उन्हें लगता है कि उन्हें बेड की आवश्यकता है, ऐसे काम नहीं होता है. अस्पतालों पर बहुत दबाव है.

ANI का ट्वीट:- 

वहीं मरीजों की बढ़ती संख्या के बाद बीजेपी उद्धव ठाकरे की सरकार पर हमलावर हो गई है. बीजेपी नेता प्रवीण दारेकर ने शनिवार को आरोप लगाया कि शिवसेना नीत महाराष्ट्र सरकार कोरोना वायरस को नियंत्रित करने के लिए पर्याप्त स्वास्थ्य अवंसरचना मुहैया कराने में नाकाम रही है. विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष दारेकर ने कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे राज्य सरकार की नाकामियों को छिपाने के लिए भाजपा पर इस मुद्दे पर राजनीति करने का आरोप लगा रहे हैं.