जरुरी जानकारी | इस वर्ष सेंसेक्स का महत्वपूर्ण पड़ाव

* जनवरी 21 : बीएसई सेंसेक्स ने कारोबार के दौरान 50,000 अंक के रिकॉर्ड स्तर को छुआ।

* फरवरी 3 : पहली बार सेंसेक्स 50,000 अंक से ऊपर बंद हुआ।

* फरवरी 5 : सेंसेक्स ने कारोबार के दौरान 51,000 अंक के स्तर को पार किया।

* फरवरी 8 : सेंसेक्स 51,000 अंक के ऊपर बंद हुआ।

*15 फरवरी : सेंसेक्स पहली बार 52,000 अंक के स्तर से आगे निकला।

* जून 22 : सेंसेक्स पहली बार कारोबार के दौरान 53,000 अंक पर पहुंचा।

* जुलाई 7 : सेंसेक्स पहली बार 53,000 अंक से ऊपर बंद हुआ।

* अगस्त 4 : सेंसेक्स ने पहली बार 54,000 अंक को छुआ और इसी दिन इससे ऊपर बंद भी हुआ।

* अगस्त 13 : सेंसेक्स नया रिकॉर्ड बनाते हए 55,000 अंक के पार पंहुचा और इस स्तर के ऊपर बंद हुआ।

* अगस्त 18 : सेंसेक्स कारोबार के दौरान 56,000 अंक के पार निकला।

* अगस्त 27 : सेंसेक्स पहली बार 56,000 अंक के ऊपर बंद हुआ।

* अगस्त 31 : सेंसेक्स दिन के कारोबार में 57 हजार अंक के पार पंहुचा और इसी स्तर पर बंद भी हुआ, इस दिन बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 250 लाख करोड़ रुपये पर पहुंचा।

* सितंबर 3 : सेंसेक्स पहली बार 58,000 अंक की नयी ऊंचाई पर पहुंचा और इसी स्तर से ऊपर बंद भी हुआ।

* सितंबर 16 : सेंसेक्स लंबी छलांग लगाते हुए 59,000 अंक के उच्चतम स्तर पर पहुंचा और इसी दिन इससे ऊपर बंद हुआ, वही बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 260 लाख करोड़ रुपये के पार पंहुचा।

* सितंबर 24 : बीएसई का सेंसेक्स कारोबार के दौरान पहली बार 60,000 अंक के स्तर को पार कर एतिहासिक ऊंचाई पर पहुंचा और इसी दिन इस एतिहासिक आंकड़े से ऊपर बंद भी हुआ।

* अक्टूबर 13 : बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 270 लाख करोड़ रुपये पर पहुंचा।

* अक्टूबर 14 : सेंसेक्स पहली बार 61,000 अंक के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा और इसी स्तर से ऊपर बंद भी हुआ।

इस साल (जनवरी से अक्टूबर) बीएसई का सेंसेक्स अब तक 13,554.62 अंक यानी 28.38 फीसदी चढ़ा।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)