देश की खबरें | इंदौर नकली शराब मामला: संदिग्ध व्यक्ति की अस्पताल में मौत

इंदौर, 31 जुलाई मध्यप्रदेश के इंदौर में बार में शराब पीने से चार लोगों की मौत के कुछ दिनों बाद इस मामले में एक संदिग्ध व्यक्ति की शनिवार को अस्पताल में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार रात को राहुल उर्फ बंटी पुलिस थाने आया था और उसका स्वास्थ्य खराब होने व उल्टियां करने पर उसके रिश्तेदारों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया, जहां शनिवार तड़के उसकी मौत हो गई।

छत्रीपुरा क्षेत्र के नगर पुलिस अधीक्षक (सीएसपी) बी पी एस परिहार ने कहा कि पुलिसकर्मी शुक्रवार को जांच के सिलसिले में राहुल के घर गए थे लेकिन तब वह घर पर नहीं मिला। इसके बाद शुक्रवार देर रात को राहुल थाने पहुंचा और थाने के बाहर ही उसकी तबीयत बिगड़ने लगी।

सीएसपी ने बताया कि पुलिस की सूचना पर राहुल के परिवार वाले आकर उसे इलाज के लिए अस्पताल ले गए, जहां उसकी मौत हो गई।

इस बीच, नकली शराब के मामले में शनिवार को आधिकारिक तौर पर बताया गया कि पुलिस ने नकली शराब पिलाकर लोगों का जीवन संकट में डालने के आरोप में दो शराब बार संचालकों को गिरफ्तार किया है। इनसे पूछताछ के आधार पर इनको सस्ते दाम पर नकली शराब बेचने वाले दो आरोपियों प्रवीण यादव और पंकज सूर्यवंशी को भी पकड़ा गया।

पुलिस विज्ञप्ति के अनुसार, यादव और सूर्यवंशी ने पूछताछ में राहुल उर्फ बंटी से नकली शराब सस्ते दाम पर खरीदने की जानकारी दी तथा यह भी बताया कि राहुल, मांधाता जिला खंडवा के कालिका प्रसाद से यह नकली शराब लाता है।

एक पुलिस अधिकारी ने शुक्रवार को पत्रकारों को बताया था कि इंदौर जिले के दो शराब बार में पिछले सात दिनों में व्हिस्की के एक ही ब्रांड की शराब पीने से चार लोगों की मौत हो गई। इससे प्रबल संदेह है कि इन लोगों ने जो शराब पी, वह नकली थी। पुलिस अधीक्षक महेश चंद्र जैन ने कहा कि इस मामले में विस्तृत जांच की जा रही है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)