खेल की खबरें | बीसीसीआई आचरण अधिकारी ने हितों के टकराव की शिकायत पर शुक्ला को नोटिस भेजा

मुंबई, 14 जनवरी भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के आचरण अधिकारी डी के जैन ने हितों के टकराव की शिकायत पर गुरुवार को बोर्ड के नवनियुक्त उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला को नोटिस जारी किया।

जैन ने शुक्ला और बीसीसीआई को इस मामले में जवाब देने के लिये दो सप्ताह का समय दिया है।

जैन ने अपने आदेश में लिखा है, ‘‘भारतीय क्रिकेट बोर्ड के आचरण अधिकारी को बीसीसीआई की नियमावली के नियम 39(2) के तहत संजीव गुप्ता की शिकायत मिली है जो राजीव शुक्ला के खिलाफ हितों के टकराव से जुड़ी है। ’’

मध्य प्रदेश क्रिकेट संघ के पूर्व आजीवन सदस्य संजीव गुप्ता ने आठ जनवरी को शुक्ला के खिलाफ हितों के टकराव की शिकायत दर्ज करायी थी।

गुप्ता ने लिखा था कि शुक्ला उत्तर प्रदेश क्रिकेट संघ के निदेशक होने के साथ साथ इसकी शीर्ष संस्था बीसीसीआई में पदाधिकारी भी हैं जो कि हितों का टकराव है।

जैन ने लिखा है, ‘‘शिकायत पर आगे कार्रवाई करने से पहले मेरे लिये बीसीसीआई और राजीव शुक्ला के रुख का पता करना आवश्यक है। इसलिए बीसीसीआई और राजीव शुक्ला को आचरण अधिकारी को अपना जवाब देने के लिये दो सप्ताह का समय दिया गया है। इसके बाद ही इस मामले में आगे आदेश पारित किया जाएगा। ’’

बीसीसीआई के संविधान के अनुसार एक व्यक्ति एक समय में कई पदों पर नहीं रह सकता है। इस संबंध में शुक्ला प्रतिक्रिया के लिये उपलब्ध नहीं थे।

शुक्ला को 24 दिसंबर 2020 को बोर्ड की वार्षिक आम बैठक में सर्वसम्मति से बीसीसीआई उपाध्यक्ष चुना गया था। वह पूर्व में आईपीएल के चेयरमैन भी रह चुके हैं।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)