ICC World Cup 2023: वर्ल्ड कप में टीम इंडिया का ये धुरंधर मचा देगा कोहराम, पल भर में मैच बाजी बदल है ये खिलाड़ी
भारतीय क्रिकेट टीम ( Photo Credit: BCCI/Twitter)

मुंबई: आईसीसी पुरुष वर्ल्ड कप 2023 (ICC Men's World Cup 2023) की शुरुआत 5 अक्टूबर से भारत (India) की धरती पर हो रही है. इस बार वर्ल्ड कप में 10 टीमें हिस्सा ले रही है. क्रिकेट के महाकुंभ के लिए सभी टीमें बहुत ज्यादा उत्साहित हैं. इस टूर्नामेंट का सबसे बड़ा और बहुप्रतीक्षित मुकाबला टीम इंडिया (Team India) और पाकिस्तान (Pakistan) के बीच 14 अक्टूबर को खेला जाएगा. दोनों टीमों के बीच इस रोमांचक जंग का गवाह अहमदाबाद (Ahmedabad) स्थित नरेंद्र मोदी स्टेडियम (Narendra Modi Stadium) बनेगा.

टीम में ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या को भी शामिल किया गया है. हार्दिक पांड्या टीम इंडिया के लिए कई मौकों पर शानदार प्रदर्शन कर चुके हैं. हार्दिक पांड्या ने आईसीसी के बड़े मुकाबलों में टीम इंडिया के लिए मैच विनिंग प्रदर्शन दिया है. इस बार भी हार्दिक पांड्या की भूमिका अहम साबित हो सकती है. IND vs AUS 3rd ODI: ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया को दिया 353 रनों का विशाल लक्ष्य, डेविड वार्नर, मिशेल मार्श और स्टीव स्मिथ ने गेंदबाजों के छुड़ाए छक्के

फिलहाल हार्दिक पांड्या जबरजस्त फॉर्म में चल रहे हैं. हाल ही में हार्दिक पांड्या ने एशिया कप में विस्फोटक बल्लेबाजी की थीं. ग्रुप मुकाबले में पाकिस्तान के खिलाफ टीम इंडिया ने शुरुआती 4 विकेट जल्दी गंवा दिए थे. लेकिन हार्दिक पांड्या ने ईशान किशन के साथ मिलकर पारी को संभाल लिया. हार्दिक पांड्या ने ईशान किशन के साथ शतकीय साझेदारी निभाई.

हार्दिक पांड्या के अंदर पूरा गेम बदल देने की क्षमता है. इससे पहले भी हार्दिक पांड्या यह कारनामा कर चुके हैं. हार्दिक पांड्या ने इंटरनेशनल मैचों में कई यादगार पारियां खेली हैं. टीम इंडिया के लिए हार्दिक पांड्या ने 79 वनडे मैचों में 1753 रन बनाए हैं.

इसके साथ-साथ 74 विकेट लिए हैं. हार्दिक पांड्या का सर्वश्रेष्ठ वनडे स्कोर 92 रन है. इस दौरान हार्दिक पांड्या के बल्ले से 11 अर्धशतक निकल चुके हैं. हार्दिक पांड्या का वनडे में गेंदबाजी में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 24 रन देकर 4 विकेट लेना रहा है. हार्दिक पांड्या का बॉलिंग में 26.72 औसत रहा है.

इस साल वनडे वर्ल्ड कप अक्टूबर-नवंबर में भारत में खेला जाएगा. मेजबान टीम होने की वजह से टीम इंडिया खिताब की प्रबल दावेदार के रूप में अपनी चुनौती पेश करेगी. वहीं पाकिस्तान और श्रीलंका जैसी टीमें भी एशियाई परिस्थितियों का लाभ उठाना चाहेंगी.