जरुरी जानकारी | आरजीपीपीएल में गेल की 25.1 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदेगी एनटीपीसी

नयी दिल्ली, 23 फरवरी सार्वजनिक क्षेत्र की बिजली उत्पादक कंपनी एनटीपीसी ने मंगलवार को कहा कि उसने रत्नागिरी गैस एंड पावर प्राइवेट लि. (आरजीपीपीएल) में गेल की 25.51 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने को लेकर शेयर खरीद समझौता किया है। आरजीपीपीएल को दाभोल परियोजना के नाम से भी जाना जाता है।

इस सौदे के पूरा हो जाने के बाद एनटीपीसी की आरजीपीपीएल में 86.49 प्रतिशत हिस्सेदारी हो जाएगी। इससे पहले, जनवरी में कंपनी ने आरजीपीपीएल में उसको कर्ज दे रखे वित्तीय संस्थानों से 35.47 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने की घोषणा की थी। शुरू में एनटीपीसी और गेल दोनों ने दाभोल परियोजना में 25.51-25.51 प्रतिशत हिस्सेदारी का अधिग्रहण किया था।

बीएसई को दी गयी सूचना के अनुसार, ‘‘एनटीपीसी लि. ने रत्नागिरी गैस एंड पावर प्राइवेट लि. में गेल की 25.51 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने तथा कोंकण एलएनजी लि. में एनटीपीसी की 14.82 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने को लेकर 23 फरवरी, 2021 को गेल (इंडिया) लि. के साथ शेयर खरीद समझौता किया।’’

समझौतों के तहत शेयरों के हस्तांतरण के साथ एनटीपीसी कोंकण एलएनजी लि. से बाहर हो जाएगी जबकि एनटीपीसी की आरजीपीपीएल में हिस्सेदारी बढ़कर 86.49 प्रतिशत हो जाएगी।

आरजीपीपीएल का गठन आठ जुलाई, 2005 को हुआ। इसकी प्रवर्तक एनटीपीसी और गेल (इंडिया) लि. है। कंपनी का गठन दाभोल पावर कंपनी प्रोजेक्ट की संपत्ति को लेने और उसे पटरी पर लाने के लिये हुआ था।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)