जरुरी जानकारी | भारत को आत्मनिर्भर राष्ट्र बनाने के प्रयास जारी रहेंगे: गोयल

नयी दिल्ली, 13 जनवरी केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को कहा कि भारत को सच्चे अर्थों में आत्मनिर्भर राष्ट्र बनाने और नागरिकों के रहन-सहन में सुधार के प्रयास जारी रहेंगे।

उन्होंने इंस्टीट्यूट ऑफ कंपनी सेक्रेटरीज ऑफ इंडिया (आईसीएसआई) द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘हमारे पास इस देश में स्थाई विकास करने का एक अवसर है। हमारे पास इस देश की छवि को बदलने का एक अवसर है, जहां ईमानदारी और पारदर्शिता के साथ नागरिकों की भलाई के लिए काम हो।’’

उन्होंने कहा कि देश के भविष्य को संवारने में सरकारी तंत्र, निजी क्षेत्र, इंस्टीट्यूट ऑफ कंपनी सेकेट्री, औद्योगिक निकाय और संस्थान, सभी समान रूप से भागीदार हैं।

आईसीएसआई के अध्यक्ष आशिष गर्ग ने कहा कि देश में कंपनी संचालन व्यवस्था को मजबूत करने के क्षेत्र में आज नियामकीय प्राधिकरणों के एक विस्तारित अंग के रूप में इस संस्थान की भूमिका अधिक बड़ी हो गयी है।

इस अवसर पर देश में कंपनी संचालन में उत्कृष्टता को मूर्तरूप देने के लिए आईसीएसआई लाइफटाइम अवार्ड पूनावाला समूह के चेयरमैन सायरस एस पूनावाला को दिया गया । इसके अलावा आईटीसी लि. , नुमालीगढ़ रिफाइनरी, टाटा मेटालिक्स, तलवंडी साबो पावर, वैभव ग्लोबल, आरोहण फाइनेंशियल सर्विसेज, रिलायंस इंडस्ट्रीज, नाटको फार्मा और मिंडा इस्ट्रीज को भी विभिन्न वर्गों में कंपनी सचालन में उत्कृष्टता के लिए आईसीएसआई अवार्ड से सम्मानित किया गया।

सर्वश्रेष्ठ सेक्रेटरियल आडिट का पुरस्कार महिंद्रा लॉजिस्टिक्स के मकरंद जोशी को दिया गया।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)