जरुरी जानकारी | चीन ने छह भारतीय कंपनियों से ‘फ्रोजन सीफूड’ के आयात को निलंबित किया

बीजिंग, 10 जून चीन ने छह भारतीय समुद्री उत्पादों का निर्यात करने वाली कंपनियों की पैकिंग में कोरोना विषाणु के निशान पाए जाने के बाद बृहस्पतिवार को उनसे शीतित समुद्री उत्पादों का आयात एक सप्ताह के लिए निलंबित कर दिया।

चीन पिछले साल की शुरुआत से दुनिया भर से आयातित शीतित खाद्य उत्पादों की जांच कर रहा है। वह पैकेज में विषाणु के निशान पाए जाने के बाद समय-समय पर कंपनियों से आयात निलंबित करता रहा है।

चीन के सीमा शुल्क प्रशासन ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि छह कंपनियों के समुद्री उत्पादों के पैकेज पर विषाणु के निशान पाए गए इसलिये इनका आयात एक सप्ताह के लिए निलंबित होगा।

चीन ने दिसंबर 2019 में पहली बार उसके वुहान में सामने आए कोरोना विषाणु के प्रसार को कड़े उपायों के साथ काफी हद तक नियंत्रित कर लिया। हालांकि, अब भी देश में कोविड-19 के कुछ मामले सामने आते रहते हैं जिनके लिए चीन सरकार ज्यादातर विदेशों से आने वाले लोगों को जिम्मेदार ठहराती है।

चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने बृहस्पतिवार को स्थानीय स्तर पर कोविड-19 के छह मामले सामने आने की बात कही। ये मामले उसके दक्षिण गुआंगडोंग प्रांत में सामने आये जबकि बुधवार को 15 मामले विदेशों से आने की जानकारी दी गई।

बहरहाल कोरोना वायरस की उत्पत्ति को लेकर व्यापक बहस छिड़ी हुई है। कुछ वैज्ञानिक और राजनीतिज्ञ इस बात को कह रहे हैं कि इस खतरनाक वायरस के प्रयोगशाला से ही लीक होने की संभावना बरकरार है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)