देश की खबरें | भारत डायनामिक्स, थेल्स ने हवाई रक्षा प्रणाली से संबंधित समझौते पर हस्ताक्षर किए
एनडीआरएफ/प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Credits: ANI)

नयी दिल्ली, 14 जनवरी अग्रणी रक्षा कंपनी थेल्स ने बृहस्पतिवार को कहा कि उसने और भारत डायनामिक्स लिमिटेड (बीडीएल) ने भारत और ब्रिटिश सरकारों के सहयोग से हवाई रक्षा प्रणाली पर मिलकर काम करने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं।

थेल्स ने बयान में कहा कि इस समझौते से बीडीएल ‘स्टार्सट्रीक’ मिसाइल प्रणाली की वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला का हिस्सा बन जाएगी जिससे इसे ब्रिटेन के सशस्त्र बलों सहित प्रणाली के मौजूदा और भविष्य के ग्राहकों को भारत निर्मित उपकरणों के निर्यात का अवसर मिलेगा।

‘‘भागीदारी समझौते’’ पर थेल्स और बीडीएल ने 13 जनवरी को भारत और ब्रिटिश सरकारों के प्रतिनिधियों की मौजूदगी में एक वर्चुअल समारोह में दस्तखत किए।

बयान में ब्रिटेन के रक्षा मंत्री जेरेमी क्विन के हवाले से कहा गया कि ब्रिटेन और भारत के बीच सहयोग निरंतर बढ़ना जारी है तथा रक्षा उपकरण कार्यक्रमों एवं प्रणालियों में दोनों के बीच घनिष्ठ संबंध हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘आज समझौते पर हुए हस्ताक्षर भारतीय सेना के लिए अगली पीढ़ी की मिसाइल प्रणालियों के उत्पादन की शुरुआत है तथा यह अंतराष्ट्रीय साझेदारों के साथ हमारी प्रतिबद्धता को मजबूत करता है।’’

अपनी श्रेणी में सबसे तेज मिसाइल ‘स्टार्सट्रीक’ अपनी तीन लेजर निर्देशित ‘डार्ट’ की वजह से विशिष्ट है जिसके चलते इसे किसी भी ज्ञात जवाबी कार्रवाई से जाम नहीं किया जा सकता।

बयान में कहा गया कि समझौते से बीडीएल को भारत सरकार को ‘मेक इन इंडिया’ स्टार्सट्रीक प्रणाली उपलब्ध कराने का अवसर मिलेगा।

इसमें कहा गया कि ‘स्टार्सट्रीक’ पहले से ही ब्रिटिश सेना की सेवा में है और यह किसी भी हवाई लक्ष्य को नष्ट करने में सक्षम है।

बयान में बीडीएल के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक कमोडोर (अवकाशप्राप्त) सिद्धार्थ मिश्रा के हवाले से कहा गया कि इस समझौते से बीडीएल के लिए नया कारोबारी अवसर उपलब्ध होगा।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)