देश की खबरें | मध्यप्रदेश को ऊर्जा क्षेत्र में आधुनिकीकरण के लिए मिलेंगे 13,000 करोड़ रूपये : आर के सिंह

भोपाल, 26 नवंबर केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री आर के सिंह ने कहा कि मध्यप्रदेश को ऊर्जा क्षेत्र में आधुनिकीकरण और अधोसंरचना विकास के लिए 13,000 करोड़ रूपये की राशि आवंटित की जाएगी।

सिंह ने बृहस्पतिवार शाम को यहां मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ केन्द्र और राज्य सरकार के अधिकारियों की संयुक्त बैठक में यह जानकारी दी।

मध्यप्रदेश जनसंपर्क के एक अधिकारी ने सिंह का हवाला देते हुए शुक्रवार को कहा, ‘‘मध्यप्रदेश को ऊर्जा क्षेत्र में आधुनिकीकरण और अधोसंरचना विकास के लिए 13,000 करोड़ रूपये की राशि दी जाएगी। मध्यप्रदेश में ऊर्जा क्षेत्र में किए जा रहे सुधार प्रशंसनीय हैं। यहां विद्युत हानि कम करने की योजना और अपनाए गए नवाचार अभिनव और अनुकरणीय हैं।’’

सिंह ने कहा कि देश में ऊर्जा क्षेत्र में श्रेष्ठ कार्य हुआ है। बिजली की कमी नहीं है। हरित ऊर्जा पर भी जोर दिया जा रहा है। प्रदेशों की चर्चा करें तो मध्यप्रदेश में बिजली का प्रबंधन अच्छा है। विद्युत की उपलब्धता अच्छी है। मध्यप्रदेश में ऊर्जा क्षेत्र में आधुनिकीकरण के लिए राशि मिल जाने से बिजली व्यवस्था और बेहतर होगी।

अधिकारी ने कहा कि चौहान ने मध्यप्रदेश को राशि स्वीकृत करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री सिंह का आभार व्यक्त किया।

चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश को सौर ऊर्जा के क्षेत्र में अग्रणी बनाने के लिए रोड मैप तैयार किया गया है।

उन्होंने कहा कि रायसेन जिले में स्थित विश्व धरोहर स्थल सांची को पूरी तरह से ‘ग्रीन सिटी’ के रूप में विकसित करने का निर्णय लिया गया है। सांची एक ग्रीन सिटी होगी जहां खपत होने वाली शत प्रतिशत बिजली का उत्पादन सौर ऊर्जा स्रोत से होगा।

चौहान ने कहा कि सांची सौर ऊर्जा के क्षेत्र में विश्व भर में सभी का ध्यान आकर्षित करेगी।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)