देश की खबरें | महाराष्ट्र में बाढ़ के कारण कृषि को भारी नुकसान : पवार
एनडीआरएफ/प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Credits: ANI)

मुंबई, 18 अक्टूबर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख शरद पवार ने रविवार को कहा कि हाल में आई बाढ़ के कारण पश्चिमी महाराष्ट्र और मराठवाड़ा में कृषि को ''अभूतपूर्व'' नुकसान पहुंचा है। साथ ही प्रभावित किसानों को जल्द ही आर्थिक मदद दिए जाने का आश्वासन भी दिया।

मराठवाड़ा के उस्मानाबाद जिले के तुल्जापुर-परांदा क्षेत्र के किसानों की एक बैठक को संबोधित करते हुए पूर्व कृषि मंत्री ने आश्वासन दिया कि वे आर्थिक सहायता के बारे में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ चर्चा करेंगे और केंद्र से भी सहायता का आग्रह करेंगे।

यह भी पढ़े | MP Bypoll Election 2020: कांग्रेस नेता कमलनाथ की चुनावी सभा में फिसली जुबान, मंत्री इमरती देवी को लेकर कही ये बात, देखें VIDEO.

अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया था कि पिछले कुछ दिनों में हुई भारी बारिश के चलते महाराष्ट्र के पुणे, कोंकण और औरंगाबाद संभाग में बारिश और बाढ़ की घटनाओं में 48 लोगों की मौत हो गई जबकि लाखों हेक्टेयर में फैली फसलें बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गईं।

पवार ने कहा, ''यह अभूतपूर्व है। जमीन को कुछ इस तरह से नुकसान पहुंचा है कि आने वाले कई वर्षों तक इस पर फसल नहीं उगाई जा सकती। बाढ़ ने इस क्षेत्र की कृषि अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया है।''

यह भी पढ़े | Corona Pandemic: केवल लंग्‍स नहीं मल्‍टी ऑर्गन डिजीज बन गई है कोरोना महामारी, सावधान रहने की है जरूरत.

राज्य की गठबंधन सरकार में सहयोगी दल राकांपा के प्रमुख ने कहा, '' खड़ी फसलें बर्बाद हो गई हैं और जमीन को क्षति पहुंची है। इन सभी को दोबारा पूरी तरह से ठीक किए जाने की आवश्यकता है। राज्य सरकार यह काम अकेले नहीं कर सकती। हम केंद्र से भी इस संबंध में लंबी-अवधि के पैकेज और तत्काल सहायता को लेकर बात करेंगे।''

पवार ने किसानों से कहा कि वे उम्मीद नहीं खोएं।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)