विदेश की खबरें | ‘एयर बबल’ व्यवस्था के तहत 28 अक्टूबर से बांग्लादेश और भारत के बीच बहाल होगी विमान सेवा

ढाका, 17 अक्टूबर बांग्लादेश और भारत के बीच 28 अक्टूबर से ‘एयर बबल’ वयवस्था के तहत विमान सेवा शुरू हो जाएगी।

मीडिया में शनिवार को आई खबरों में यह जानकारी सामने आई।

यह भी पढ़े | पूर्व पाकिस्तानी PM नवाज शरीफ ने लगाया आरोप, पाकिस्तान की सेना और ISI ने इमरान खान की ‘कठपुतली सरकार’ बनवाई.

कोविड-19 महामारी के चलते दोनों देशों के बीच लगभग आठ महीने तक उड़ान सेवा बाधित रही।

द्विपक्षीय ‘एयर बबल’ समझौते के तहत दोनों देशों की विमानन कंपनियां कुछ प्रतिबंधों के साथ अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का परिचालन कर सकती हैं।

यह भी पढ़े | अमेरिका ने COVID19 मरीजों में प्रतिरक्षा नापने के लिए शुरू किए क्लीनिकल ट्रायल.

भारत ने जुलाई से अब तक अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी समेत कई देशों के साथ इस प्रकार के ‘बबल’ स्थापित किये हैं।

डेली स्टार की खबर के अनुसार, नागर विमानन और पर्यटन मंत्रालय के वरिष्ठ सचिव मोहम्मद मोहिबुल हक ने कहा कि तीन बांग्लादेशी कंपनियां- बिमान बांग्लादेशी एयरलाइन, यूएस-बांग्ला एयरलाइन और नोवो एयर सप्ताह में 28 उड़ानों का परिचालन करेंगी।

हक ने कहा कि इसके अलावा पांच भारतीय कंपनियां- एयर इंडिया, इंडिगो, स्पाइस जेट, विस्तार और गो एयर भी दोनों देशों के बीच सप्ताह में 28 उड़ानों का परिचालन करेंगी।

खबर के अनुसार बिमान, ढाका-दिल्ली और ढाका-कोलकाता मार्ग पर उड़ानों का परिचालन करेगी।

यूएस-बांग्ला एयरलाइन ढाका-चेन्नई मार्ग पर और नोवो एयर, ढाका-कोलकाता मार्ग पर उड़ान का परिचालन करेगी।

भारतीय विमानन कंपनियां ढाका-दिल्ली, ढाका-कोलकाता, ढाका-चेन्नई और ढाका-मुंबई मार्गों पर उड़ान का परिचालन करेंगी।

खबर के मुताबिक, भारत तक उड़ान सेवा बहाल करने का निर्णय नागर विमानन तथा पर्यटन मंत्रालय द्वारा शुक्रवार को एक बैठक में लिया गया।

खबर के अनुसार, बांग्लादेश नागर विमानन प्राधिकरण के अध्यक्ष एयर वाईस मार्शल एम मफीदुर रहमान ने कहा कि शुरुआत में दोनों देशों के लगभग 5000 यात्री यात्रा कर सकेंगे।

उन्होंने कहा कि तीसरे देश की यात्रा के लिए कोई ‘ट्रांजिट’ सुविधा उपलब्ध नहीं होगी और यात्रियों को विमान में सवार होने से पहले कोविड-19 जांच करानी होगी।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)