देश की खबरें | बैंकों से 80 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के मामले में गौर सन्स के राहुल गौर पर मामला दर्ज :सीबीआई
एनडीआरएफ/प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Credits: ANI)

नयी दिल्ली, 31 जुलाई रीयल इस्टेट समूह गौर सन्स के चेयरमैन बी एल गौर के बेटे राहुल गौर पर सीबीआई ने बैंक ऑफ बड़ोदा तथा सिंडीकेट बैंक के साथ कथित रूप से 80 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी करने के सिलसिले में मामला दर्ज किया है।

अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि समूह की कंपनी ब्रायस इंटरनेशनल प्राइवेट लिमिटेड द्वारा एक आवासीय परिसर के निर्माण की योजना के नाम पर यह धोखाधड़ी की गयी है।

यह भी पढ़े | तेलंगाना: कोरोना वायरस के कारण, 51 साल के मोहम्मद नूरुद्दीन ने 33 साल बाद उत्तीर्ण की दसवीं की परीक्षा, जानें पूरा मामाला.

अधिकारियों के अनुसार कंपनी ने नोएडा के सेक्टर 150 में 291 लक्जरी अपार्टमेंट के एक अत्याधुनिक सर्वसुविधायुक्त आवासीय परिसर के निर्माण के लिए 250 करोड़ रुपये का स्वीकृत कराया था। इसमें बैंक ऑफ बड़ोदा से 150 करोड़ रुपये और सिंडीकेट बैंक से 100 करोड़ रुपये का कर्ज मंजूर हुआ था।

उन्होंने कहा कि बैंक ऑफ बड़ोदा ने शिकायत में आरोप लगाया है कि बैंक ने 80 करोड़ रुपये जारी कर दिये थे, लेकिन परियोजना को शुरुआती स्तर पर ही अधर में छोड़ दिया गया।

यह भी पढ़े | कोरोना के झारखंड में 826 नए मरीज पाए गए, 2 की मौत: 31 जुलाई 2020 की बड़ी खबरें और मुख्य समाचार LIVE.

उसने आरोप लगाया कि खरीददारों के शुरुआती निवेश को निलंब लेखा (एस्क्रो खाते) में डाला जाना चाहिए था लेकिन ऐसा नहीं किया गया।

अधिकारियों के अनुसार कंपनी के खाते का फोरेंसिक ऑडिट किया गया जिसमें धन को इधर-उधर लगाने और तथ्यों को छिपाने की बात सामने आई।

उन्होंने कहा कि खाता 2015 में 80 करोड़ रुपये की देनदारी के साथ एनपीए हो गया था।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)