नेपाल के विदेश मंत्री प्रदीप ग्यावली 14 जनवरी को आएंगे भारत, दिल्ली का करेंगे दौरा
नेपाल के विदेश मंत्री प्रदीप ग्यावली (Photo Credits: ANI)

काठमांडू, 7 जनवरी: हिमालयी राष्ट्र में राजनीतिक उथल-पुथल के बाद, नेपाल के विदेश मंत्री प्रदीप ग्यावली (Pradeep Gyawali) 14 जनवरी को नई दिल्ली में विदेश मंत्री स्तर की नेपाल-भारत संयुक्त आयोग बैठक में भाग लेने के लिए नई दिल्ली का दौरा करेंगे. इससे पहले, ग्यावली ने दिसंबर के मध्य में नई दिल्ली की यात्रा करने की योजना बनाई थी, लेकिन नेपाल की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी में कलह और विवाद के कारण यह यात्रा स्थगित कर दी गई थी.

नवंबर के अंत में भारतीय विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला (Harsh Vardhan Shringla) की नेपाल यात्रा के दौरान, भारतीय पक्ष ने दिसंबर के मध्य में बैठक आयोजित करने का प्रस्ताव दिया था, लेकिन नेपाली पक्ष इस पर सहमत नहीं हो पाया था, जिससे यह बैठक अनिश्चित हो गई थी. जैसा कि सत्ता पक्ष के अंदर कलह और विवाद चलता रहा और के.पी. शर्मा ओली सरकार अल्पमत में आ गई, 20 दिसंबर को ओली ने सदन को भंग कर दिया और 30 अप्रैल और 10 मई को मध्यावधि चुनाव कराने का प्रस्ताव रखा.

यह भी पढ़ें: Ayodhya Ram Mandir Construction: नेपाल ने अयोध्यापुरी धाम के लिए 40 एकड़ जमीन की आवंटित

हालांकि, भारत और नेपाल दोनों ने अभी बैठक के लिए तारीख की घोषणा नहीं की है, लेकिन काठमांडू में राजनयिक सूत्रों ने आईएएनएस को बताया कि ग्यावली 14 जनवरी को नई दिल्ली की यात्रा करेंगे, अपने भारतीय समकक्ष एस जयशंकर के साथ संयुक्त आयोग की बैठक में शामिल होंगे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अन्य वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक के बाद वापस काठमांडू लौट आएंगे.

कुछ नेपाली मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, यात्रा के दौरान, नेपाल और भारत के बीच, नेपाल को कोविड वैक्सीन प्रदान करने पर एक समझौते पर हस्ताक्षर करने की संभावना है. नेपाल ने पहले ही भारत को एक कूटनीतिक नोट भेजा है, जिसके तहत देश ने भारत से कोविड के टीके की मांग की है.

नेपाली पक्ष सीमा विवाद के मुद्दे और इसके सौहार्दपूर्ण समाधान के लिए तैयार है. ग्यावली ने सार्वजनिक रूप से कहा है कि नेपाल भारत के साथ सीमा विवाद के मुद्दे को प्रमुखता से उठाएगा, और आगामी बैठक में शांतिपूर्ण समाधान की मांग करेगा. इससे पहले आखिरी बैठक अगस्त 2019 में काठमांडू में हुई थी और विदेश मंत्री जयशंकर ने इसमें भाग लिया था.