प्रकृति अपने आगोश में अनगिनत रहस्य समेटे हुए है. जहां एक ओर जानवरों की दुनिया क्रूरता से भरी दिखती है, वहीं दूसरी ओर उनकी भावनाओं की गहराई दिल को छू जाती है. ऐसा ही नज़ारा देखने को मिला जब लंगूरों के एक झुंड ने एक रोबोट बंदर, जिसे वे अपना बच्चा समझ रहे थे, के लिए मातम मनाया.

यह रोबोट बंदर असल में एक जासूसी कैमरा था जिसे लंगूरों के व्यवहार को फ़िल्माने के लिए डिज़ाइन किया गया था. जब यह रोबोट बंदर बेजान हो गया तो लंगूरों ने इसे अपना मृत बच्चा समझ लिया. उन्होंने रोबोट को घेर लिया, उसे सूंघा, उसे धीरे से हिलाने की कोशिश की और एक-दूसरे को गले लगाकर ढांढस बंधाया.

यह नज़ारा बेहद मार्मिक था और इसने जानवरों में भावनात्मक गहराई को उजागर किया. लंगूरों का रोबोट को अपना बच्चा समझकर मातम मनाना दर्शाता है कि वे भी इंसानों की तरह दुःख और हमदर्दी महसूस करते हैं.

यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल हो रहा है और लोगों को प्रकृति के अद्भुत और रहस्यमयी पहलुओं से रूबरू करा रहा है. इस घटना ने एक बार फिर साबित कर दिया है कि जानवर भी इंसानों की तरह भावनात्मक होते हैं और अपनों के लिए गहरा प्यार और दुःख महसूस करते हैं.

(SocialLY के साथ पाएं लेटेस्ट ब्रेकिंग न्यूज, वायरल ट्रेंड और सोशल मीडिया की दुनिया से जुड़ी सभी खबरें. यहां आपको ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर वायरल होने वाले हर कंटेंट की सीधी जानकारी मिलेगी. ऊपर दिखाया गया पोस्ट अनएडिटेड कंटेंट है, जिसे सीधे सोशल मीडिया यूजर्स के अकाउंट से लिया गया है. लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है. सोशल मीडिया पोस्ट लेटेस्टली के विचारों और भावनाओं का प्रतिनिधित्व नहीं करता है, हम इस पोस्ट में मौजूद किसी भी कंटेंट के लिए कोई जिम्मेदारी या दायित्व स्वीकार नहीं करते हैं.)