देश

⚡आपातकाल: 25 जून की आधी रात से ही शुरू हो गया था लोकतंत्र का काला अध्याय

By IANS

भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है. लोकतंत्र में कहा जाता है कि जनता का, जनता के लिए और जनता द्वारा किए जाने वाला शासन है. जनता इसके लिए अपने प्रतिनिधि चुनती है, जो जनता से ताकत लेकर देश चलाते हैं, लेकिन जब जनता द्वारा चुनी गई सरकार ही निरंकुश हो जाए और सारे संवैधानिक उपायों को ताक पर रख कर अधिनायकवाद बन जाए, तो देश में अराजकता आ ही जाती है.

...

Read Full Story