जरुरी जानकारी | कर्मचारियों के कोरोना संक्रमित होने से कोल इंडिया का कामकाज धीमा हुआ

नयी दिल्ली, चार मई कोल इंडिया लिमिटेड (सीआईएल) ने कहा कि उसके और उसकी सहयोगी कंपनियों के 5,400 से ज्यादा कर्मचारी कोरोना विषाणु से संक्रमित हैं और इस वजह से उसका कामकाज धीमा हो गया है।

हालांकि, कंपनी ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि पिछले महीने उसकी खदानों से कोयले का उठाव बढ़कर 5.41 करोड़ टन हो गया।

सीआईएल ने कहा, "उठाव और भी ज्यादा होता लेकिन कंपनी और उसकी सहयोगी कंपनियों के 5,400 से ज्यादा कर्मचारियों के महामारी की चपेट में आने से उसका कामकाज धीमा हो गया। इनमें से ज्यादतर अग्रिम पंक्ति के उत्पादन और उठाव से जुड़े कामकाज में लगे थे। इन कर्मचारियों में अनुबंध पर काम करने वाले कर्मचारी भी शामिल हैं।"

सीआईएल ने कहा कि इसके बावजूद कंपनी के कोयले की आपूर्ति में पिछले वित्तीय वर्ष के अप्रैल महीने की तुलना में इस वर्ष 3.3 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई। वहीं वित्तीय वर्ष 2019 के मुकाबले यह 6.1 प्रतिशत अधिक रही। वर्ष 2018- 19 में सीआईएल का सबसे ज्यादा (60.7 करोड़ टन) कोयला उठाव रहा था।

कंपनी ने कहा है कि अप्रैल में 5.41 करोड़ टन के कोयला उठाव में से 4.24 करोड़ टन बिजली क्षेत्र ने उठाया जबकि शेष 1.17 करोड़ टन कोयले का उठाव गैर- विद्युत क्षेत्र से हुआ।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)