विदेश की खबरें | डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी को ‘‘चिंताजनक’’ बताया

डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक तेद्रोस अदहानोम गेब्रेयेसस ने शुक्रवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि नए मामलों की संख्या ‘‘संक्रमण के सर्वोच्च दर पर पहुंच गयी है, जिसे महामारी के दौरान अब तक हमने नहीं देखा था।’’

गेब्रेयेसस ने पापुआ न्यू गिनी का उदाहरण देते हुए कहा कि कुछ देश जहां कोविड-19 को फैलने से रोका जा सकता था, वहां भी महामारी तेजी से फैल रही है।

उन्होंने कहा, ‘‘इस साल की शुरुआत तक पापुआ न्यू गिनी में 900 से कम मामले थे और सिर्फ नौ लोगों की संक्रमण से मौत हुई थी।’’

उन्होंने उल्लेख किया कि देश में वर्तमान में 9,000 से अधिक मामले हैं और 83 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें से आधे मामले पिछले महीने ही सामने आये।

गेब्रेयेसस ने कहा, ‘‘पापुआ न्यू गिनी इस बात का सटीक उदाहरण है कि टीकाकारण क्यों महत्वपूर्ण है।’’ उन्होंने कहा कि प्रशांत द्वीपीय राष्ट्र कोविड-19 रोधी टीके के लिए ऑस्ट्रेलिया और संयुक्त राष्ट्र समर्थित कोवैक्स पहल पर निर्भर है।

अब तक कोवैक्स पहल के तहत 100 से अधिक देशों को चार करोड़ से अधिक टीके की खुराक भेजी जा चुकी है।

एपी सुरभि दिलीप

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)