देश की खबरें | वी.के. सिंह ने सिलक्यारा बचाव अभियान के दौरान आई मुश्किलों की जानकारी दी

गाजियाबाद (उप्र), 30 नवंबर गाजियाबाद से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद वी.के. सिंह ने उत्तरकाशी के सिलक्यारा सुरंग में फंसे 41 श्रमिकों को बचाने के लिए चलाये ‘‘असाधारण’’ बचाव अभियान के बारे में बृहस्पतिवार को विस्तार से जानकारी साझा की।

चुनौतीपूर्ण बहु-एजेंसी प्रयासों के बारे में बोलते हुए सिंह ने बचावकर्मियों के सामने आने वाली कठिनाइयों के बारे में बताया, साथ ही पूरे संकट के दौरान फंसे हुए श्रमिकों द्वारा प्रदर्शित असाधारण ‘‘बहादुरी और सहयोग’’ का भी उल्लेख किया।

यहां संवाददाताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने बचाव अभियान की ‘‘अभूतपूर्व उपलब्धि’’ के बारे में जानकारी दी।

उन्होंने कहा, ‘‘सभी श्रमिकों को सुरक्षित बाहर निकालना, इस अभियान में शामिल टीम के लिए एक उल्लेखनीय उपलब्धि है।’’

उन्होंने बताया कि जब श्रमिक सुरंग में फंसे थे तो एक छोटे पाइप के माध्यम से कंबल, कपड़े और मनोरंजक वस्तुओं सहित विभिन्न आवश्यक चीजें प्रदान की गईं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बचाव अभियान की निगरानी की।

उन्होंने बताया कि जब ऑगर मशीन फंस गई थी तो लंबवत ड्रिलिंग और मैग्नीशियम मशीन से ड्रिलिंग का निर्णय लिया गया, लेकिन मैग्नीशियम मशीन से ड्रिलिंग की योजना को स्थगित कर दिया गया क्योंकि इसका तापमान लगभग 8,000 डिग्री सेल्सियस होता, जिससे पाइप पिघल सकता था।

सिंह ने रैट माइनिंग विशेषज्ञों की विशेषज्ञता और सटीकता की सराहना की, जिन्होंने सफलतापूर्वक 12 मीटर तक खुदाई का अभियान चलाया, जिससे अंततः सभी फंसे श्रमिकों का सुरक्षित बचाया जा सका।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)