देश की खबरें | जोधपुर में पाकिस्तानी प्रवासियों का टीकाकरण शुरू

जोधपुर (राजस्थान), 11 जून जोधपुर जिला प्रशासन ने कोविड-19 से बचाव के लिए उन पाकिस्तानी हिंदू प्रवासियों का शुक्रवार को टीकाकरण शुरू किया, जिनके पास भारतीय पहचान पत्र नहीं है।

अधिकारियों ने बताया कि इन प्रवासियों को पाकिस्तानी पासपोर्ट के आधार पर टीके की खुराक दी जा रही है। उन्होंने बताया कि पाकिस्तानी प्रवासियों के लिए जिले में शुरू टीकाकरण अभियान के पहले दिन एक शिविर में करीब 100 लोगों को टीके की खुराक दी गई।

अधिकारियों ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम प्रवासियों की एक बस्ती अल्कोसर शिविर शुक्रवार सुबह पहुंची और टीकाकरण शुरू किया। उन्होंने बताया कि जिले में रह रहे ये प्रवासी टीकाकरण से छूट गए थे क्योंकि इनके पास आधार जैसे स्थानीय पहचान पत्र नहीं थे।

सीमांत लोक संगठन के अध्यक्ष हिंदू सिंह सोधा ने शुक्रवार के टीकाकरण को समुदाय के सदस्यों की जीत करार दिया। उन्होंने कहा,‘‘यह आश्चर्यजनक था कि सभी जिलों ने बिना पहचान पत्र के प्रवासियों का टीकाकरण शुरू कर दिया था जबकि जोधपुर के प्रवासियों को अपनी बारी का इंतजार करना पड़ा।’’

गौरतलब है कि प्रवासियों का टीकाकरण सभी जिलों में उनके पासपोर्ट के आधार पर आठ जून को शुरू हुआ था। हालांकि, जोधपुर में राज्य सरकार के निर्देश के नाम पर यह शुरू नहीं हो सका था।

केंद्र सरकार ने पांच मई को जारी मानक संचालन प्रक्रिया में कहा था कि कमजोर समुदाय के उन लोगों का भी टीकाकरण किया जाए, जिनके पास पहचान पत्र नहीं है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)