देश की खबरें | उप्र: संतों की सभा में अयोध्या की तरह मथुरा और काशी को भी ‘मुक्त’ करने का आह्वान किया गया

प्रयागराज, 11 फरवरी विश्व हिंदू परिषद (विहिप) द्वारा रविवार को यहां आयोजित संतों की एक सभा में अयोध्या की तरह मथुरा और काशी को ‘मुक्त’ करने का आह्वान किया गया।

यहां माघ मेले में एक सभा को संबोधित करते हुए अखिल भारतीय संत समिति के महासचिव स्वामी जीतेंद्रानंद सरस्वती ने कहा, ‘‘हमने तीन मंदिरों के बारे में बात की है। अगर मुस्लिम समुदाय काशी और मथुरा पर अपना दावा नहीं छोड़ता है, तो हम ध्वस्त किए गए सभी मंदिरों पर अपना दावा करेंगे...।’’

उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा समारोह के बाद मुस्लिम समुदाय को काशी और मथुरा पर अपना दावा छोड़ देना चाहिए।

प्रत्यक्ष तौर पर उनका इशारा वाराणसी में काशी विश्वनाथ मंदिर-ज्ञानवापी मस्जिद विवाद और मथुरा में कृष्ण जन्मभूमि-शाही ईदगाह मुद्दे की ओर था।

जीतेंद्रानंद सरस्वती ने कहा, ‘‘यहां लिया गया संकल्प कभी अधूरा नहीं रहता और आज हम सभी ने संकल्प लिया है कि अयोध्या की तरह हम मथुरा और काशी को भी मुक्त कराएंगे।’’

विहिप नेता दिनेश ने कहा कि संगठन संतों द्वारा उठाए गए मुद्दों पर काम करेगा और उनके मार्गदर्शन में भविष्य के कार्यक्रमों की योजना बनाएगा।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)