देश की खबरें | रेमडेसिविर चुराने के आरोप में दो नर्स गिरफ्तार

नयी दिल्ली, तीन मई पश्चिमी दिल्ली के एक निजी अस्पताल के दो पुरुष नर्सों को कथित तौर पर मृत मरीजों के रेमडेसिविर इंजेक्शन चुराने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने सोमवार को बताया कि आरोपियों ने कालाबाजारी के लिये टीके चुराए थे।

उन्होंने कहा कि आरोपियों की पहचान हर्ष विहार निवासी डोमाथोती यशवंत (27) और दीपक (28) के तौर पर हुई है।

कोरोनावायरस संक्रमण के मामलों में भारी वृद्धि के चलते इस दवा की बेहद मांग है हालांकि विशेषज्ञों ने इसके फायदे सीमित बताए हैं।

पुलिस ने कहा कि उसे दो आरोपियों के बारे में एक सूचना मिली जिसमें कहा गया कि यशवंत ज्यादा कीमत पर रेमडेसिविर इंजेक्शन बेचने के लिये आएगा। इस जानकारी के बाद पुलिस ने पंजाबी बाग फ्लाइओवर के पास जाल बिछाया।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि यशवंत को शनिवार को पंजाबी बाग फ्लाइओवर के निकट पकड़ा गया, जब वह एक कार से वहां आया था।

अधिकारी ने बताया कि उसके पास से रेमडेसिविर इंजेक्शन की दो शीशी बरामद की गईं।

यशवंत ने पुलिस को बताया कि वह पंजाबी बाग स्थित महाराजा अग्रसेन अस्पताल में एक स्टाफ नर्स है और उसने तथा सहकर्मी दीपक ने अस्पताल में मृत मरीजों के रेमडेसिविर इंजेक्शन ले लिये और उन्हें 30 से 40 हजार में उन्हें बेच दिया।

पुलिस ने कहा कि बाद में दीपक को महाराजा अग्रसेन अस्पताल से गिरफ्तार किया गया और उसके पास से रेमडेसिविर इंजेक्शन की तीन शीशी बरामद की गईं।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)