देश की खबरें | बीजद के दो उम्मीदवारों ने राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन दाखिल किया, तीसरी सीट को लेकर अटकलें

भुवनेश्वर, 13 फरवरी राज्यसभा के 27 फरवरी को होने वाले चुनाव के लिए ओडिशा में बीजू जनता दल (बीजद) के उम्मीदवार के रूप में देबाशीष सामंत्रे और शुभाषीश खूंटिया ने नामांकन पत्र दाखिल कर दिया है।

बीजद अध्यक्ष और राज्य के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, राज्य सरकार के मंत्रियों और विधायकों की उपस्थिति में दोनों उम्मीदवारों ने उच्च सदन में चुनाव के लिए नामांकन दाखिल किया।

सामंत्रे बीजद के पूर्व विधायक हैं और खूंटिया बीजद के युवा प्रकोष्ठ के नेता हैं।

हालांकि राज्यसभा की तीसरी सीट को लेकर स्थिति अभी स्पष्ट नहीं है। पटनायक ने सोमवार को दो ही उम्मीदवारों के नाम घोषित किए थे। विधानसभा में मौजूदा सदस्य संख्या को देखते हुए बीजद ही अप्रैल में खाली हो रहीं तीनों सीटों पर जीत हासिल कर सकती है।

केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव और बीजद नेता प्रशांत नंदा तथा अमर पटनायक का राज्यसभा में कार्यकाल अप्रैल में समाप्त होने पर ये तीन सीट रिक्त होंगी।

अब इस तरह की अटकलें भी चल रहीं हैं कि पटनायक तीसरे उम्मीदवार के रूप में रेल मंत्री वैष्णव का नाम लेकर सभी को चौंका सकते हैं।

बीजद के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘‘हमें पूरी तरह जानकारी नहीं है। पटनायक इस संबंध में अंतिम निर्णय करेंगे।’’

सामंत्रे और खूंटिया ने नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद पटनायक का आभार जताया। उन्होंने उच्च सदन में ओडिशा के हितों और अधिकारों के लिए काम करने का संकल्प जताया।

एक अधिसूचना के अनुसार, ओडिशा में तीन राज्यसभा सीट के लिए चुनाव 27 फरवरी को सुबह नौ बजे से शाम चार बजे के बीच राज्य विधानसभा परिसर में होगा और वोटों की गिनती शाम पांच बजे होगी। नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख 15 फरवरी है।

ओडिशा की 147 सदस्यीय विधानसभा में फिलहाल बीजद के 109 विधायक (पार्टी से चार विधायक निष्कासित हैं), भाजपा के 22 सदस्य और नौ विधायक कांग्रेस के हैं। सदन में निर्दलीय विधायक की संख्या एक है और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) का भी एक विधायक है। बीजद विधायक सुरज्या एन पात्रो के निधन के कारण एक सीट रिक्त है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)