देश की खबरें | हरियाणा सरकार को कोई खतरा नहीं, राज्यपाल शक्ति परीक्षण को कहेंगे तो बहुमत साबित करेंगे: कंवर पाल

चंडीगढ़, 15 मई हरियाणा के मंत्री कंवर पाल ने बुधवार को कहा कि राज्य में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार को कोई खतरा नहीं है और अगर राज्यपाल शक्ति परीक्षण का निर्देश देंगे तो वह विधानसभा में अपना बहुमत साबित कर देंगे।

भाजपा सरकार ने मार्च में विश्वास मत हासिल किया था जब पार्टी ने मनोहरलाल खट्टर को बदलकर नायब सिंह सैनी को मुख्यमंत्री बनाया था।

पाल ने कहा, “ आम तौर पर विश्वास मत जीतने के बाद छह महीने के लिए शक्ति परीक्षण की आवश्यकता नहीं होती है। हालांकि, अगर राज्यपाल साहब ऐसा निर्देश देंगे तो हम अपना बहुमत साबित कर देंगे।”

जब उनसे पूछा गया कि शक्ति परीक्षण की स्थिति में सरकार संख्या बल कहां से जुटाएगी, तो उन्होंने कहा, "यहां हर चीज का खुलासा नहीं किया जा सकता है। लेकिन मैं जो कह रहा हूं वह यह है कि हम बहुमत साबित करेंगे।"

पाल ने कहा, "हम सदन में मौजूद विधायकों के साथ अपना बहुमत साबित करेंगे।"

हरियाणा में भाजपा सरकार का समर्थन करने वाले तीन निर्दलीय विधायकों ने पिछले हफ्ते कांग्रेस को समर्थन दे दे दिया जिससे सैनी सरकार अल्पमत में आ गई।

हालांकि, भाजपा नेताओं का दावा है कि भाजपा-जजपा गठबंधन खत्म होने के बावजूद जननायक जनता पार्टी (जजपा) के कुछ सदस्य सरकार को समर्थन देंगे।

लेकिन जजपा नेतृत्व ने कहा है कि वे चाहते हैं कि सैनी सरकार गिर जाए।

तीन निर्दलीय विधायकों के सरकार से समर्थन वापस लेने और राज्यपाल को पत्र लिखने पर पाल ने संवाददाताओं से कहा, ''उनका पत्र अब तक स्वीकार नहीं किया गया है।''

कृषि एवं संसदीय कार्य मंत्री ने कहा, '‘मुझे लगता है कि अगर वे (तीनों विधायक) अपना समर्थन वापस ले लेते हैं, तो भी सरकार को कोई खतरा नहीं है।''

वर्तमान विधानसभा में भाजपा के 40 सदस्य हैं और उसे दो निर्दलीय और हरियाणा लोकहित पार्टी के एकमात्र विधायक का भी समर्थन प्राप्त है। विधानसभा के कुल सदस्यों की संख्या 90 है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)