देश की खबरें | तमिलनाडु के राज्यपाल की ‘निजी’ टिप्पणियों को सदन की कार्यवाही से ‘हटाया’ गया : अध्यक्ष

चेन्नई, 12 फरवरी तमिलनाडु विधानसभा के अध्यक्ष एम. अप्पावु ने सोमवार को कहा कि पारंपरिक अभिभाषण के दौरान राज्यपाल आर एन रवि द्वारा की गयी ‘व्यक्तिगत’ टिप्पणियों को सदन की कार्यवाही से ‘हटा’ दिया गया है।

इसके साथ ही राज्य में राज भवन और सत्तारूढ़ द्रविड़ मुनेत्र कषगम (द्रमुक) के बीच टकराव बढ़ गया है।

उनका यह बयान तब आया है जब रवि ने सोमवार को विधानसभा में अपना परंपरागत अभिभाषण शुरू करने के कुछ ही मिनटों बाद यह कहते हुए समाप्त कर दिया कि वह अभिभाषण की सामग्री को लेकर सरकार से असहमत हैं।

अप्पावु ने पत्रकारों से कहा, ‘‘उन्होंने (तैयार किए गए अभिभाषण से) जो पढ़ा, वह ठीक है। उसके बाद उन्होंने कुछ व्यक्तिगत टिप्पणियां कीं जिन्हें हटा दिया गया है।’’

राष्ट्रगान पर भी रवि ने कुछ टिप्पणियां की थीं। इस पर अध्यक्ष ने कहा कि राष्ट्रगान राज्यपाल के अभिभाषण वाले दिन आखिर में बजाया जाता है।

सदन के नियमों का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि सदन की कार्यवाही राज्यपाल के अभिभाषण के बाद तमिल मंगलाचरण गीत ‘तमिल थाई वज्थू’ के साथ शुरू होती है और कार्यवाही समाप्त होने पर ‘‘अंत में राष्ट्रगान बजाया जाता है।’’

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)