विदेश की खबरें | स्पेन ने एस्ट्राजेनेका टीका केवल 60 साल से अधिक आयु वाले बुजुर्गों को लगाने का किया फैसला

यह फैसला तब लिया गया है जब यूरोपीय मेडिसिन एजेंसी ने कहा कि उसने टीके और खून के थक्के जमने के बीच ‘‘संभावित संबंध’’ का पता लगाया है। इसके बाद कई यूरोपीय देशों ने इस टीके का इस्तेमाल सीमित कर दिया।

स्पेन की स्वास्थ्य मंत्री कैरोलिना डारियास ने क्षेत्रीय स्वास्थ्य प्रमुखों से मुलाकात के बाद बुधवार को घोषणा की कि अधिकारी टीके का इस्तेमाल 60 साल से अधिक तक की आयु के लोगों पर ही करेंगे।

अभी तक स्पेन ने एस्ट्राजेनेका का इस्तेमाल अपनी युवा आबादी पर किया है और इसे 65 वर्ष से कम उम्र की आबादी के लिए सीमित किया था। डारियास ने कहा कि अब ऊपरी सीमा को खत्म करने पर विचार किया जा रहा है।

डारियास ने कहा, ‘‘एस्ट्राजेनेका के साथ हमारी रणनीति निर्णायक है।’’

गत सप्ताह जर्मनी और फ्रांस ने टीके का इस्तेमाल बुजुर्ग लोगों तक सीमित कर दिया था और बुधवार को ब्रिटिश अधिकारियों ने सिफारिश की कि इस टीके का उपयोग 30 साल तक की आयु वाले वयस्कों पर न किया जाए।

स्पेन उन यूरोपीय देशों में से एक है जिसने पिछले महीने खून के थक्के जमने का पहला मामला सामने आने के बाद एस्ट्राजेनेका टीके का इस्तेमाल रोक दिया था।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि उनका प्रशासन इस पर विचार करेगा कि 60 साल तक की आयु वाले उन नागरिकों के साथ क्या किया जाए जिन्होंने एस्ट्राजेनेका का पहला टीका लगवा लिया है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)