विदेश की खबरें | स्लोवाकिया राजनेता देश में शांति बनाए रखने का आह्वान कर रहे हैं
श्रीलंका के प्रधानमंत्री दिनेश गुणवर्धने

अस्पताल के एक अधिकारी ने बृहस्पतिवार को कहा कि फिको की हालत गंभीर लेकिन स्थिर बनी हुई है।

गृह मंत्री मातुस सुताज एस्तोक ने बुधवार को कहा कि प्रारंभिक जांच में फिको पर हमले के पीछे 'स्पष्ट राजनीतिक मकसद' पाया गया।

फिको पर एक सांस्कृतिक केंद्र के बाहर पांच गोलियां चलाई गईं जहां वह समर्थकों से मिल रहे थे।

फ़िको की जान लेने का प्रयास बुधवार को ऐसे समय में हुआ जब हजारों प्रदर्शनकारी उनकी नीतियों का विरोध करने के लिए राजधानी और देश भर में रैलियां कर रहे हैं। यह घटना यूरोप में होने वाले संसदीय चुनावों से ठीक पहले सामने आई है।

फिको की राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी, निवर्तमान राष्ट्रपति जुजाना कैपुतोवा ने बृहस्पतिवार को कहा कि देश के राजनीतिक दलों के प्रमुख शांति बनाए रखने के प्रयास के लिए बैठक करेंगे।

कैपुतोवा ने राजधानी ब्रातिस्लावा में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, "हम हर किसी से जिम्मेदारपूर्वक व्यवहार करने का आह्वान करना चाहते हैं।"

एपी

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)