देश की खबरें | जम्मू-कश्मीर में अलगाववादी नेता अशरफ सहराई का निधन

अधिकारियों ने इस बात की जानकारी दी। वह 77 वर्ष के थे।

सहराई हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के कट्टरपंथी धड़े के नेता सैयद अली शाह गिलानी के करीबी माने जाते थे।

अधिकारियों ने बताया कि मंगलवार की शाम को सहराई की तबीयत अचानक बिगड़ जाने के बाद उन्हें सरकारी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया।

गिलानी के स्थान पर तहरीक-ए-हुर्रियत का अध्यक्ष बनने वाले सहराई की कोविड-19 रैपिड एंटीजन जांच की गयी जिसमें रिपोर्ट निगेटिव आई थी। उनकी आरटीपीसीआर जांच की रिपोर्ट का इंतजार है।

अधिकारियों के मुताबिक, सहराई को सांस लेने में परेशानी हो रही थी और उनका ऑक्सीजन स्तर भी कम था। उन्हें कोविड-19 जैसे लक्षण थे।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)