देश की खबरें | गलत इलाज से रोगी की मौत : जांच के आदेश

अलीगढ़ (उत्तर प्रदेश), तीन मई अलीगढ़ के दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल में एक रोगी की कथित रूप से गलत इलाज के कारण मौत होने और उसका शव 14 घंटे तक गर्मी में पड़े रहने का मामला सामने आया है। जिला प्रशासन ने प्रकरण की जांच के आदेश दिए हैं।

उल्लेखनीय है कि कोविड-19 के कारण बृजेश शर्मा (69) नामक व्यक्ति की दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल में मृत्यु हो गई थी।

शर्मा के परिजन ने जिला प्रशासन से की गई शिकायत में आरोप लगाया है कि शर्मा को गत 29 अप्रैल को अस्पताल में भर्ती कराया गया था लेकिन अस्पताल कर्मियों ने उनसे पहले उस बेड पर भर्ती रहे मरीज हरिओम शर्मा के मेडिकल टेस्ट के आधार पर उनका इलाज कर दिया।

उनका आरोप है कि इस गलत उपचार के कारण अगले ही दिन उनकी मृत्यु हो गई।

परिजन के मुताबिक जब उन्होंने बृजेश का पता लगाने की कोशिश की तो अस्पताल में बताया गया कि इस नाम से कोई भी मरीज भर्ती नहीं है और जब सच्चाई सामने आई तब तक बहुत देर हो चुकी थी।

परिजन का यह भी आरोप है कि अस्पताल प्रशासन ने बृजेश का शव 14 घंटे तक गर्मी और अंधेरे में अस्पताल के बेड पर ही पड़ा रहने दिया।

उप जिलाधिकारी रंजीत सिंह ने इस पूरे मामले की जांच के आदेश दिए हैं। उनका कहना है कि जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)