देश की खबरें | पंडित ने पीएसओ को नहीं बताया था कि वह दक्षिण कश्मीर जा रहे हैं: पुलिस

श्रीनगर, 10 जून पिछले हफ्ते जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों द्वार मारे गए भाजपा नेता राकेश पंडित ने अपने निजी सुरक्षा गार्ड (पीएसओ) को बताया था कि वह अभी भी जम्मू में हैं, जिस दिन उन्हें दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले के त्राल शहर में आंतकवादियों ने गोली मार दी थी। पुलिस अधिकारी ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि जांचकर्ता पिछले डेढ़ साल में पंडित के त्राल के नियमित दौरे के कारणों का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं।

अधिकारी ने बताया कि जांचकर्ताओं को मृतक नेता के निजी सुरक्षा गार्डों द्वारा किसी भी तरह की गड़बड़ी का संदेह नहीं है क्योंकि उन्हें कश्मीर में पंडित की मौजूदगी के बारे में पता भी नहीं था, त्राल की तो बात ही छोड़ दीजिए।

अधिकारी ने बताया, "उन्होंने (पंडित) फोन पर पीएसओ को बताया था कि वह अभी भी जम्मू में हैं।"

गौरतलब है कि पुलवामा के त्राल इलाके में दो जून को प्रतिबंधित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों ने भाजपा पार्षद पंडित की गोली मारकर हत्या कर दी थी और उनके साथ आई एक महिला घायल हो गई थी।

अधिकारी ने बताया कि पंडित की हत्या के सिलसिले में अब तक 20 लोगों से पूछताछ की जा चुकी है लेकिन अभी तक किसी की औपचारिक गिरफ्तारी नहीं हुई है।

उन्होंने बताया कि जांचकर्ता 22 वर्षीय महिला से भी पूछताछ करना चाहते हैं, जो आतंकवादियों की गोलीबारी में घायल हो गई थी, लेकिन उसे महिला के अस्पताल से बाहर आने तक इंतजार करना होगा।

अधिकारी ने कहा, "हम सभी पहलुओं की जांच कर रहे हैं और मृतक से जुड़े सभी लोगों की जांच की जा रही है। यहां तक ​​कि घटना के दिन मृतक की मेजबानी करने वाले परिवार से भी पूछताछ की जा रही है।"

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)