जरुरी जानकारी | मुंद्रा बंदरगाह, गढ़ी हरसरू आईसीडी को नए वाहन आयात के लिए डीजीएफटी की मंजूरी मिली

नयी दिल्ली, 13 फरवरी सरकार ने मुंद्रा बंदरगाह और गढ़ी हरसरू आईसीडी (इनलैंड कंटनेर डिपो) को नए वाहनों के आयात की अनुमति मिल गई है। एक अधिसूचना में यह जानकारी दी गई।

इसके साथ ही नए वाहनों का आयात करने वाले बंदरगाहों और आईसीडी की संख्या बढ़कर 18 हो गई है।

विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) की अधिसूचना के अनुसार, ‘‘मुंद्रा बंदरगाह तथा आईसीडी गढ़ी हरसरू को 16 मौजूदा बंदरगाहों/आईसीडी की सूची में शामिल किया जा रहा है, जिससे नए वाहनों के आयात के लिए बंदरगाहों/आईसीडी की कुल संख्या 18 हो जाएगी।’’

गढ़ी हरसरू आईसीडी गुरुग्राम के पास स्थित है।

इन 18 सीमा शुल्क बंदरगाहों में नौ समुद्री बंदरगाह न्हावा शेवा, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, एन्नोर, कोचीन, कट्टुपल्ली, एपीएम टर्मिनल पिपावाव, कृष्णापट्टनम, विशाखापत्तनम, मुंद्रा शामिल हैं। तीन हवाई अड्डे मुंबई एयर कार्गो कॉम्प्लेक्स, दिल्ली एयर कार्गो, चेन्नई हवाई अड्डा और चार आईसीडी तलेगांव (पुणे), तुगलकाबाद, फरीदाबाद, गढ़ी हरसरू हैं।

आईसीडी पर कंटेनर में समान रखा जाता है। यह भीतरी इलाकों के ग्राहकों को उनके परिसर के करीब बंदरगाह सेवाएं प्रदान करने में मदद करते हैं।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)