देश की खबरें | दिल्ली में कोविड-19 मृतकों के दाह संस्कार के लिए और अधिक जगह निर्धारित की गई है: नगर निगम

नयी दिल्ली, आठ अप्रैल दिल्ली नगर निगमों ने कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए कोविड-19 मृतकों के समय पर अंतिम संस्कार को सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाना शुरू कर दिया है। नगर निकायों ने शवदाह गृहों से लेकर कब्रिस्तानों में कोविड-19 मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए अतिरिक्त व्यवस्था की है।

उत्तरी दिल्ली के महापौर जय प्रकाश के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में लगभग 21 शवदाह गृहों और कब्रिस्तानों को कोविड-19 मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए तय किया है।

उन्होंने बृहस्पतिवार को कहा, "दिल्ली में वर्तमान में कोविड मामले तेजी से बढ़ रहे हैं, जो पिछली लहर की तुलना में अधिक खतरनाक है। कोविड के बढ़ते मामलों और मौतों के मद्देनजर भीड़ को संभालने के लिए श्मशान पर अधिक चबूतरे (प्लेटफार्म) बनाए गए किए हैं। दैनिक आधार पर, अगर और अधिक मौतें होती हैं, तो हम और अधिक प्लेटफार्म निर्धारित करेंगे।''

प्रकाश ने कहा कि उत्तरी दिल्ली के निगमबोध घाट में छह सीएनजी भट्टियां हैं, जिनमें से तीन कोविड मृतकों के दाह संस्कार के लिए आरक्षित हैं।

प्रकाश ने कहा, "निगमबोध घाट के पास अब 120 प्लेटफार्म हैं, और उनमें से 10 लकड़ी वाले है। उत्तरी दिल्ली में श्मशान घाट पर एक दिन में लगभग 100-200 शवों का अंतिम संस्कार किया जा सकता है। मृतकों की संख्या अगर बढ़ती है, तो हम जरूरत के हिसाब से और व्यवस्था करेंगे।''

दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के अधिकारियों ने भी कहा कि कोविड​​-19 के कारण मरने वाले लोगों के समय पर और अंतिम संस्कार सुनिश्चित करने के लिए सभी व्यवस्थाएं की गई हैं।

दिल्ली में बुधवार को कोविड​​-19 के 5,506 नए मामले सामने आए, जो इस साल के सर्वाधिक मामले हैं। राष्ट्रीय राजधानी में संक्रमण के कुल मामले अब 6,90,568 हो गए हैं, जबकि 20 और लोगों की मौत होने से मृतकों की संख्या 11,133 हो गई।

पूर्वी दिल्ली के महापौर निर्मल जैन ने लोगों से मास्क पहनने और सामाजिक दूरी बनाए रखने जैसे सभी मानदंडों का पालन करने का आग्रह किया।

उन्होंने कहा, "हम सभी कोविड सुरक्षा मानदंडों के साथ उचित ढंग से और समय पर अंतिम संस्कार सेवाओं को सुनिश्चित करने के लिए अन्य नगर निकायों के साथ समन्वय में काम कर रहे हैं।"

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)