जरुरी जानकारी | मारुति ऑक्सीजन की पीएसए मशीनों के विनिर्माण में राजधानी क्षेत्र की दो कंपनियों को देगी मदद

नयी दिल्ली, नौ मई देश की सबसे बड़ी कार विनिर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया ने रविवार को कहा कि उसने पीएसए (प्रेसर स्विंग एडजॉर्बशन) ऑक्सीजन संयंत्रों का उत्पादन बढ़ाने के लिये राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र की दो कंपनियों के साथ हाथ मिलाया है।

वाहन कंपनी ने कहा कि वह आक्सीजन का उत्पादन बढ़ाने और ‘लॉजिस्टिक’ की समस्या दूर करने में तेजी से पीएसए ऑक्सीजन संयंत्र लगाने के महत्व को समझती है।

मारुति सुजुकी ने एक बयान में कहा कि ये संयंत्र सीमित संसाधनों के साथ लघु इकाइयां बना रही हैं। इन संयंत्रों के लिये उत्पादन क्षमता बढ़ाने की काफी गुंजाइश है।

उसने कहा, ‘‘हमने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में दो कंपनियों... एरोक्स नाइजन एक्विपमेंट्स और एसएएम गैस प्रोजेक्ट्स को चिन्हित किया है। इनके पास काफी आर्डर हैं लेकिन उनकी क्षमता एक महीने में 5 से 8 संयंत्र विनिर्मित करने की है। हमने उनका उत्पादन बढ़ाने में मदद के लिये अपने संसाधनों के उपयोग का निर्णय किया है।’’

वाहन कंपनी के अनुसार वह दोनों कंपनियों से एक मई में बातचीत शुरू की और जल्दी ही उनके साथ एक सहमति पर पहुंच गयी।

एमएसआई के अनुसार, ‘‘प्रौद्योगिकी, गुणवत्ता और प्रदर्शन के साथ-साथ वाणिज्यक मामले दोनों कंपनियों के पास रहेंगे। मारुति सुजुकी और उसके वेंडर उत्पादन तेजी से बढ़ान के लिये अपनी क्षमताओं का उपयोग करेंगे। एमएसआई इस काम में किसी लाभ के आधार पर नहीं जुड़ी है।’’

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)