देश की खबरें | मध्य प्रदेश : रेमडेसिविर की कालाबाजारी करते हुए दो नर्सों सहित तीन गिरफ्तार

देवास (मप्र), तीन मई मध्य प्रदेश के देवास में पुलिस ने कोविड-19 के उपचार में उपयोग में आने वाली रेमडेसिविर इंजेक्शन की कथित रूप से कालाबाजारी करने के आरोप में दो नर्सों एवं दवाइयों की दुकान के एक मालिक को सोमवार को गिरफ्तार किया है।

देवास पुलिस अधीक्षक डॉ शिवदयाल सिंह ने यहां संवाददाताओं को बताया, ‘‘देवास के प्राइम हॉस्पिटल सिविल लाइन में कार्य करने वाले एक पुरूष एवं महिला नर्स के साथ-साथ एक मेडिकल स्टोर के संचालक (दवाइयों की दुकान के मालिक) को कोतवाली पुलिस ने रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है।’’

सिंह ने बताया कि गुप्त सूचना पर कोतवाली पुलिस ने प्राइम हॉस्पिटल सिविल लाइन में कार्य करने वाली नर्स पूजा सिंह और पुरुष नर्स अंकित राजाराम पटेल तथा मेडिकल स्टोर संचालक रूद्र तिवारी के पास से तीन रेमडेसिविर इंजेक्शन और दवाइयां जब्त की है।

उन्होंने कहा कि यह इंजेक्शन ये दोनों नर्सें 27,000 रूपये में बेचते हुए रंगे हाथ पकड़ाए।

सिंह ने बताया कि पुलिस कोतवाली द्वारा पूछताछ की जा रही है कि यह गिरोह अभी तक कितने लोगों को अवैध रूप से रेमडेसिविर इंजेक्शन बेच चुका है और इसके पीछे और कौन-कौन शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि आरोपियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) की कार्रवाई भी की जा सकती है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)