जरुरी जानकारी | रिजर्व बैंक की कार्रवाई के बाद कोटक महिंद्रा बैंक का शेयर लगभग 12 प्रतिशत टूटा

नयी दिल्ली, 25 अप्रैल रिजर्व बैंक के कदम के बाद कोटक महिंद्रा बैंक के शेयर में बृहस्पतिवार को लगभग 12 प्रतिशत की गिरावट आई।

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने बुधवार को बैंक पर ऑनलाइन तथा मोबाइल बैंकिंग के जरिए नए ग्राहकों को जोड़ने और क्रेडिट कार्ड जारी करने पर तत्काल प्रभाव से पाबंदी लगा दी।

बीएसई में कंपनी का शेयर 10.85 प्रतिशत गिरकर 1,643 रुपये पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 12.10 प्रतिशत गिरकर 52 सप्ताह के अपने निचले स्तर 1,620 रुपये पर आ गया था।

एनएसई में कंपनी का शेयर 10.73 प्रतिशत टूटकर 1,645 रुपये प्रति शेयर पर बंद हुआ। सत्र के दौरान कंपनी का शेयर 13 प्रतिशत की गिरावट के साथ 52 सप्ताह के निचले स्तर 1,602 रुपये प्रति शेयर तक पहुंच गया था।

कंपनी का बाजार पूंजीकरण (एमकैप) 39,768.36 करोड़ रुपये घटकर 3,26,615.40 करोड़ रुपये पर रहा।

कंपनी का शेयर बीएसई और एनएसई, दोनों में सबसे ज्यादा नुकसान में रहा।

कोटक महिंद्रा बैंक को पीछे छोड़ते हुए एक्सिस बैंक बाजार मूल्यांकन के हिसाब से देश का चौथा सबसे मूल्यवान बैंक बन गया। एक्सिस बैंक का एमकैप 3,48,014.45 करोड़ रुपये रहा।

बाजार पूंजीकरण के हिसाब से एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और भारतीय स्टेट बैंक तीन सबसे मूल्यवान बैंक हैं।

सूचना प्रौद्योगिकी मानदंडों का बार-बार अनुपालन न करने पर कड़ी कार्रवाई करते हुए आरबीआई ने कोटक महिंद्रा बैंक को अपने ऑनलाइन और मोबाइल बैंकिंग के माध्यम से नए ग्राहकों को जोड़ने और नए क्रेडिट कार्ड जारी करने से तत्काल प्रभाव पर रोक लगा दी। नियामक ने बैंक के आईटी जोखिम प्रबंधन में ‘गंभीर कमियां’ पाईं।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)