देश की खबरें | कर्नाटक ने द्वितीय पीयूसी की परीक्षा टाली, प्रथम पीयूसी के छात्रों को अगली कक्षा में पदोन्नत किया

बेंगलुरु, चार मई कर्नाटक सरकार ने द्वितीय प्री यूनिवर्सिटी (पीयूसी) परीक्षा को टालने और प्रथम प्री यूनिवर्सिटी के छात्रों को बिना इम्तिहान के पदोन्नत करने का मंगलवार को ऐलान किया।

प्राथमिक और माध्यमिक शिक्षा मंत्री एस सुरेश कुमार ने कहा, “ राज्य में कोरोना वायरस के मामलों में तेज वृद्धि को देखते हुए तथा कोविड और लॉकाडउन की वजह से अपने गृह नगर व गांव गए छात्रों एवं विभिन्न विभागों के कर्मियों के कोविड ड्यूटी में लगे होने के मद्देनजर हमने पीयूसी परीक्षा को टालने का फैसला किया है।”

उन्होंने कहा कि विभाग छात्रों को काफी पहले परीक्षा की अगली तारीखों के बारे में जानकारी दे देगा।

बकौल कुमार, यह फैसला विभाग के सभी अधिकारियों की एक बैठक में लिया गया है जहां उनके द्वारा प्रधानाचार्यों, लेक्चरर और कुछ अभिभावकों की राय भी रखी गई थी।

मध्य प्रदेश, झारखंड, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, हिमाचल प्रदेश, छत्तीसगढ़ राजस्थान, पंजाब और तेलंगाना सरीखे राज्यों ने परीक्षाएं स्थगित कर दी हैं और इस पर बैठक में चर्चा की गई थी।

प्रथम पीयूसी छात्रों के संबंध में मंत्री ने कहा कि विद्यार्थियों को अगली कक्षा में पदोन्नत कर दिया गया है।

मंत्री ने कहा, “ हमने प्रथम पीयूसी विद्यार्थियों को अगली कक्षा में पदोन्नत करने का फैसला किया है। हमने ब्रिज कोर्स के जरिए उन्हें अगले पाठ्यक्रम के लिए तैयार करने का फैसला किया है। मैं सभी लेक्चरर से आग्रह करता हूं कि वे घर से काम करें और छात्रों का मार्गदर्शन करने के लिए उनके साथ संपर्क में रहें और उनके संदेहों को दूर करें।”

कर्नाटक में कोविड परिदृश्य गंभीर है और राज्य में सोमवार को संक्रमण के 44,438 नए मामले रिपोर्ट हुए थे तथा 239 लोगों की मौत हो गई थी। इसके बाद कुल मामले 16,46,303 पहुंच गए हैं जबकि 16250 लोगों की मौत हो चुकी है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)