देश की खबरें | पत्रकारों को कोरोना टीकाकरण में मिलेगी प्राथमिकता

लखनऊ, चार मई उत्‍तर प्रदेश सरकार ने राज्य में पत्रकारों और उनके परिवारों को कोरोना टीकाकरण में प्राथमिकता देने का मंगलवार को फैसला लिया।

सरकारी बयान के अनुसार मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने निर्देश दिया है कि पत्रकारों और उनके परिवार के लिए अलग से टीका केंद्र बनाए जाएं और प्राथमिकता के आधार पर उनका टीकाकरण किया जाए। उन्होंने अधिकारियों से कहा है कि सभी पत्रकारों का टीकाकरण सुनिश्चित करें, जरुरत होने पर उनके दफ्तरों में जाकर भी टीका लगाया जा सकता है। पत्रकारों के परिवार में 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को टीका लगाया जाए।

सरकार ने पत्रकार की मृत्यु होने पर आश्रितों को पांच लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने का भी निर्णय लिया है। उत्तर प्रदेश में सरकार अब पत्रकारों की मदद के लिए केंद्र की कल्याण योजना का लाभ देने जा रही है। अब इस योजना का लाभ गैर मान्यता प्राप्त और स्‍वतंत्र पत्रकार भी उठा सकेंगे।

बयान के अनुसार, योजना की पात्रता के लिए भारत सरकार या किसी राज्य व केंद्र शासित प्रदेश की सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त होना चाहिए। यदि मान्यता प्राप्त नहीं है तथा वे प्रिंट, इलेक्ट्रानिक अथवा वेब आधारित सेवाओं में पिछले कम से कम पांच वर्षों से जुड़े हैं तो भी वे इस योजना के दायरे में आएंगे।

अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने बताया कि पत्रकार की मृत्यु होने पर उनके आश्रितों को पांच लाख रुपये की आर्थिक सहायता दिए जाने का प्रावधान है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)