विदेश की खबरें | जयशंकर ने कुवैत के विदेश मंत्री से मुलाकात की, वार्ता को सकारात्मक बताया

कुवैत सिटी, 10 जून विदेश मंत्री एस जयशंकर की बृहस्पतिवार को कुवैत के अपने समकक्ष शेख अहमद नासिर अल-मोहम्मद अदल-सबा से हुई वार्ता ''सकारात्मक'' रही। इस दौरान दोनों पक्षों ने स्वास्थ्य, खाद्य, शिक्षा, ऊर्जा , डिजिटल व व्यापारिक सहयोग समेत विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की।

बृहस्पतिवार तड़के तेल समृद्ध खाड़ी देश कुवैत की पहली द्विपक्षीय यात्रा पर आए जयशंकर ने वार्ता के दौरान मौजूद रहे वाणिज्य मंत्री डॉक्टर अब्दुल्ला ईसा अल-सलमान की भी प्रशंसा की।

जयशंकर ने ट्वीट किया, ''कुवैत के विदेश मंत्री शेख अहमद नासिर अल-मोहम्मद अदल-सबा के साथ वार्ता सकारात्मक रही। वार्ता में वाणिज्य मंत्री डॉक्टर अब्दुल्ला ईसा अल-सलमान की उपस्थिति की सराहना करता हूं।''

उन्होंने कहा कि वार्ता का एजेंडा स्वास्थ्य, खाद्य, शिक्षा, ऊर्जा , डिजिटल व व्यापारिक सहयोग समेत विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करना था।

विदेश मंत्री ने ट्वीट किया, ''हमारे संयुक्त आयोग की पिछली बैठक की प्रगति की समीक्षा करने पर सहमति जतायी।''

दोनों पक्षों ने एक सहमति पत्र (एमओयू) पर भी हस्ताक्षर किए जो कुवैत में भारतीय कामगारों को अधिक कानूनी सुरक्षा प्रदान करेगा।

जयशंकर ने ट्वीट किया, ''कुवैत में भारतीय समुदाय के मुद्दों के समाधान के लिये खुलेपन का स्वागत करता हूं। एक सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए गए जो हमारे कामगारों को अधिक कानूनी सुरक्षा प्रदान करेगा। हमारे संबंधों की 60 वीं वर्षगांठ के जश्न की शुरुआत की।''

कुवैत में 10 लाख से ज्यादा भारतीय रहते हैं। भारत कुवैत के सबसे बड़े व्यापारिक साझेदारों में से एक है और कुवैत भारत के लिए तेल का एक प्रमुख आपूर्तिकर्ता है।

जयशंकर ने ट्वीट किया, ''क्षेत्रीय मुद्दों पर विदेश मंत्री शेख अहमद नासिर अल-मोहम्मद अदल-सबा के मूल्यांकन और विचारों को महत्व दिया। ''

कुवैत के अमीर शेख नवाफ अल-अहमद अल-जाबिर अल-सबा के लिये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का निजी पत्र लेकर आए जयशंकर ने इससे पहले प्रधानमंत्री शेख सबा खालिद अल-हमाद अल-सबा से मुलाकात की।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)