जरुरी जानकारी | जैक्सन ग्रीन ने राजस्थान ऊर्जा विकास निगम के साथ बिजली खरीद समझौता

नयी दिल्ली, 23 फरवरी नवीकरणीय ऊर्जा क्षेत्र की कंपनी जैक्सन ग्रीन ने शुक्रवार को राजस्थान सरकार की राजस्थान उर्जा विकास निगम लिमिटेड (आरयूवीएनएल) के साथ अपने 100 मेगावाट क्षमता वाले सौर फोटोवेल्टिक (पीवी) संयंत्र के लिए पहला बिजली खरीद समझौता (पीपीए) किया है।

कंपनी ने बयान में कहा कि यह करार 25 वर्ष के लिए किया गया है। यह समझौता जैक्सन ग्रीन को देश में तेजी से बढ़ते नवीकरणीय ऊर्जा क्षेत्र में एक प्रमुख स्वतंत्र बिजली उत्पादक (आईपीपी) के रूप में स्थापित करने में मदद करेगा।

आरयूवीएनएल ने पिछले साल अप्रैल में पूरे राजस्थान में एसटीयू संबद्ध सौर पीवी परियोजना लगाने के लिए कंपनियों से प्रस्ताव मांगे थे।

जैक्सन ग्रीन ने बोली के जरिए 2.61 रुपये प्रति यूनिट की दर से 100 मेगावॉट की परियोजना हासिल की थीं। बिजली खरीद समझौता के 18 माह बाद इन परियोजनाओं से बिजली का उत्पादन प्रारंभ हो जाएगा। यह परियोजना देश के हरित ऊर्जा के लक्ष्य को पाने और राजस्थान सरकार की बिजली की बढ़ती जरूरतों, दोनों को पूरा करने में अहम भूमिका निभाएगी।

जैक्सन ग्रीन प्राइवेट लिमिटेड के संयुक्त प्रबंध निदेशक कन्नन कृष्णन ने कहा, “वे राजस्थान उर्जा विकास निगम के साथ साझेदारी से बेहद उत्साहित हैं। पर्यावरण अनुकूल भविष्य के लक्ष्य को हासिल करने के प्रति अपनी प्रतिबद्धता के चलते ही जैक्सन ग्रीन नवीनीकृत ऊर्जा पर ध्यान केंद्रित कर रही है।”

कंपनी ने बयान में कहा कि जैक्सन ग्रीन द्वारा लगाए जा रहे 100 मेगावाट के सौर पीवी संयंत्र से 80 हजार घरों को पूरे साल बिजली पहुंचेगी। साथ ही इससे 18757.8 करोड़ टन सालाना कार्बन का उत्सर्जन घटेगा।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)