जरुरी जानकारी | उद्योग जगत ने विनिर्माण संयंत्र की स्थापना में भूमि अधिग्रहण से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की

नयी दिल्ली, 16 मई उद्योग मंडल एसोचैम द्वारा आयोजित सीईओ गोलमेज बैठक में विनिर्माण सुविधाएं स्थापित करने में भूमि अधिग्रहण से संबंधित आने वाली बाधाओं के बारे में चर्चा की गई। चैंबर ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी।

सम्मेलन में सरकार, सार्वजनिक और निजी क्षेत्र की कंपनियों, शिक्षा जगत, बैंकिंग, वाहन और बुनियादी ढांचा डेवलपर्स सहित अन्य प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

कॉरपोरेट जगत की अग्रणी हस्तियों ने भूमि अधिग्रहण से संबंधित मुद्दों के समाधान के रूप में नियमों और विनियमों में सुगमता के लिए एकल खिड़की मंजूरी प्रणाली को मजबूत करने का सुझाव दिया।

अनुसंधान एवं विकास पारिस्थिकी तंत्र को मजबूत करने की आवश्यकता चर्चा का एक अन्य प्रमुख मुद्दा था, जिसमें सभी उपस्थित लोगों ने उद्योग, शिक्षा और अनुसंधान संस्थानों के बीच अधिक सहयोग का आह्वान किया।

एसोचैम ने कहा कि अनुसंधान एवं विकास को बढ़ावा देने और अधिकतम सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए मजबूत आईपी कानूनों पर भी चर्चा की गई।

एसोचैम ने कहा, ‘‘विनिर्माण सुविधाएं स्थापित करने में बाधा उत्पन्न करने वाले भूमि अधिग्रहण से संबंधित मुद्दों पर भी चर्चा की गई। विभिन्न नियमों और विनियमों के सुगमता से अनुपालन के लिए एकल खिड़की प्रणाली को मजबूत करने पर चर्चा हुई।’’

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)